यूपी मुर्गीपालन लोन योजना। Up Poultry Form Scheme Registration 2020


आप उत्तर प्रदेश के नागरिक हैं और खुद का कोई बिजनेस करने की सोच रहे हैं तो आपके लिए मुर्गीपालन योजना बिलकुल सही है। ऐसा अक्सर देखा ही जाता है के लोग अपना खुद का काम करना तो चाहते हैं लेकिन पैसा ना हो पाने की वजह से वह जिंदगीभर काम शुरू ही नहीं कर पाते। ऐसे ही लोगों के लिए कुक्कुट पालन लोन योजना शुरू की गई है।  योगी सरकार द्वारा चलाई जा रही इस योजना के जरिए कुक्कुट पालन करने वाले या Poultry Farming करने वाले लोगों के लिए लोन की व्यवस्था की जाएगी। देश को आत्मनिर्भर बनाने में पोल्ट्री फार्मिंग एक अहम भूमिका निभाएगा। अगर आप इस योजना में आवेदन करना चाहते हैं या Murgi Palan Loan Yojana स्कीम से जुड़ी किसी भी तरह की जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो आप हमारे इस लेख पर अंत तक बने रहें।

उत्तर प्रदेश में मुर्गीपालन करने वालों की आय की बढ़ोतरी और इस व्य्वसाय को आगे बढ़ाने के लिए ही इस योजना को शुरू किया गया है। कुक्कुट पालन को तेजी से आगे बढ़ाया जा सके इसके लिए कुक्कुट विकास नीति जारी की है। आपको बता दें मुर्गीपालन देश की आय में एक बहुत बड़ा हिस्सा देता है, जिसे देखते हुए इस व्यपार को आगे बढ़ाने का कदम ना केवल लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करेगा, बल्कि प्रदेश में मांस और अंडे की मांग को भी पूरा करेगा। इस योजना में किसान और युवा दोनो ही अपनी अतिरिक्त आय के लिए भागीदारी दे सकते हैं। स्कीम कें अंदर लोगों को मुर्गीपालन करने के लिए लोन के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

क्या है उत्तर प्रदेश की कुक्कुट या मुर्गीपालन लोन योजना 2020 

हम सभी जानते हैं कि देश में आज के समय में अंडा और मांस किस मात्रा में खाया जाता है। आंकड़े तो यह भी बताते हैं कि देश में अंडे और मांस की मांग बहुत अधिक है जबकि इसका व्यवसाय करने वाले लोग बेहद कम है।

भारतीय पोषण अकादमी के आंकड़े बताते हैं कि देश में प्रति वर्ष एक व्यक्ति पर अंडा खपत करीब 182 है, यानी औसतन एक व्यक्ति 182 अंडे साल में खाता है। वंही अगर राष्ट्रीय उपलब्धता की बात करें तो 53 अंडे हैं। जबकि उत्तर प्रदेश में यह 22 अंडे हैं। वंही अगर मांस की बात करें तो इसकी प्रति व्यक्ति पर सालना खपत करीब 11.00 किलोग्राम तक है,वंही राष्ट्रीय उपलब्धता केवल 2.20 किलोग्राम है। 

यह आंकड़े साफ तौर पर यह समझाते हैं कि इस व्यापार कितना फलने फूलने वाला है। शायद योगी सरकार द्वारा इसलिए ही पोल्ट्री लोन योजना को शुरू किया है।

Poultry farming / Murgi Palan loan योजना में कितना मिलेगा लोन

उत्तर प्रदेश  की मुर्गीपालन योजना के तहत पोल्ट्री फार्म खोला जा सकता है। फार्म खोलने के लिए लागत का कुछ प्रतिशत आवेदक को वहन करना होगा, जबकि बचा हुआ पैसा बैंक से लोन के रूप में दिया जाएगा। स्कीम के माध्यम से आवेदक 10 हजार पक्षियों की या 30 हजार पक्षियो की कॉमर्शियल यूनिट शुरू कर सकता है।

30 हजार पक्षियों की कॉमर्शियल युनिट स्थापित करने के लिए 1.60 करोड़ रूपए की आवश्यकता होगी, जिसमें से 54 लाख रूपए देने होंगे तो वंही 1.06 करोड़ रूपए का लोन पास कराना होगा। 

अगर आवेदक 10 हजार पक्षियों की कॉमर्शियल युनिट स्थापित करता है तो उसे 70 लाख रूपए की जरूरत होगी, जिसमें से 21 लाख रूपए उसे खुद वहन करने होंगे, जबकि 49 लाख रूपए का लोन पास कराना होगा। 

पोल्ट्री फार्म लोन योजना के लाभ

  • 10 हजार पक्षियो के पालन हेतु 49 लाख रूपए का बैंक लोन लिया जा सकेगा, जबकि 30 हजार मुर्गियों के पालन हेतु1.06 करोड़ तक का लोन दिया जाएगा।
  • योजना में उत्तर प्रदेश सरकार लाइसेंस देगी।
  • स्वच्छता का प्रमाण पत्र दिलाने में सरकार की तरफ से मदद की जाएगी।
  • राज्य में अधिक मात्रा में रोजगार पैदा होंगे।
  • लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
  • प्रदेश में अंडा एंव मांस की मांग की पूर्ति हो सकेगी।
  • किसानों और पशुपालन करने वालों की आय में वृद्धि होगी।

Uttarpradesh Murgi Palan लोन योजना के लिए पात्रता एंव शर्ते

  • आवेदक के पास कम से कम 3 एकड़ जमीन होनी चाहिए।
  • जमीन हाइवे, जलश्रोत, आबादी आदि से 500 मीटर दूर होनी चाहिए।
  • लाभार्थी के पास ब्रॉयलर पैरेंट फार्मिंग के लिए छह एकड़ भूमि होना जरूरी है।
  • उत्तर प्रदेश के निवासी ही आवेदन कर सकते हैं।
  • बैंक में बचत खाता होना चाहिए।

योजना हेतु जरूरी दस्तावेज

  • वोटर आईडी  कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट या आधार कार्ड में से कोई एक दस्तावेज देना अनिवार्य होगा।
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • एड्रेस प्रूफ में राशन कार्ड, बिजली बिल, पानी का बिल, इनमें से किसी एक का जमा कराना अनिवार्य होगा।
  • अपने प्रोजेक्ट का पूरा ब्यौरा या प्रोजेक्ट रिपोर्ट देनी होगी
  • बैंक खाते की संपूर्ण जानकारी

Up Poultry Form Scheme Registration 2020

UP MURGI PALAN LOAN 2020

  1. अगर अब आप इस योजना में आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको योजना से जुड़ा फॉर्म हासिल करना होगा और फार्म को भरने के बाद बैंक में जमा करना होगा। सारी जानकारी सही पाई जाने पर आपको बैंक द्वारा लोन दे दिया जाएगा।
  2. आप इस योजना से जुड़ा फॉर्म इस लिंक पर क्लिक कर के हासिल कर सकते हैं।
  3. योजना से जुड़ी अन्य किसी भी प्रकार की जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक करें।

 मुर्गीपालन लोन योजना से सम्बंधित प्रशनोत्तर

[sc_fs_multi_faq headline-0=”h5″ question-0=”मुर्गीपालन लोन योजना किस राज्य द्वारा चलाई जा रही है” answer-0=”यह योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही है।” image-0=”” headline-1=”h5″ question-1=”क्या मुर्गीपालन लोन योजना में किसी भी राज्य का नागरिक आवेदन कर सकता है?” answer-1=”नहीं, योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के निवासी ही ले सकते हैं।” image-1=”” headline-2=”h5″ question-2=”क्या मुर्गीपालन में आवेदन करने के लिए खुद की जमीन होनी अनिवार्य है” answer-2=”हां, योजना का लाभ लेने के लिए खुद की 3 एकड़ जमीन होनी अनिवार्य है।” image-2=”” headline-3=”h5″ question-3=”क्या उत्तर प्रदेश में मुर्गीपालन लोन योजना का फायदा किसानों को होगा” answer-3=”हां, यह योजना किसानो समेत उत्तर प्रदेश के हर उस नागरिक के लिए है जो अपनी पात्रता सिद्ध करता हो” image-3=”” count=”4″ html=”true” css_class=””]

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश द्वारा लागू की गई यह योजना हैं बहुत फायदेमंद