यूपी टेलरिंग शॉप/सिलाई दूकान योजना | लोन, रजिस्ट्रेशन 2020 | UP Tailor Shop Yojana in Hindi


UP Tailor Shop/Silai Dukan Loan Scheme, Complete Details in Hindi, How to Apply

उत्तर प्रदेश की अनुसुचित जाति के बेरोजगार जो सिलाई कढ़ाई में माहिर हैं, उनके लिए एक अच्छी खबर है। उत्तर प्रदेश सरकार ने अनुसुचित जाति के लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए एक नई योजना बनाई है। इस योजना के तहत जिन भी महिलाओं और पुरुषों को सिलाई का काम आता है, वह अपनी सिलाई की दुकान या टेलर शॉप खोल सकते हैं। इसके लिए सरकार की तरफ से 20 हजार रूपए तक की आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी। इस योजना को दो नामों से जाना जाता है पहला यूपी टेलरिंग शॉप और दूसरा सिलाई दुकान योजना। अगर आप सिलाई दुकान योजना से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी हासिल करना चाहते हैं, या इस योजना में आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको हमारे साथ अंत तक बने रहना होगा।

यह भी पढ़ें – UP Pravasi Shramik Rojgar Protsahan Yojana

क्या है यूपी टेलरिंग शॉप/सिलाई दुकान योजना

उत्तर प्रदेश में अनुसुचित जाति के बहुत से ऐसे लोग हैं जो बेरोजगारी की समस्या से जूझ रहे हैं।  ऐसे ही लोगों के लिए यह योजना बनाई गई है। टेलरिंग शॉप योजना में आवेदक को सरकार की तरफ से 20000 हजार रूपए की मदद दी जाएगी जिसके जरिए वह अपनी सिलाई या टेलर की दुकान खोल कर अपना खुद का काम शुरू कर सकते हैं और अपनी आर्थिक स्थिति को बेहतर कर सकते हैं। इनमें से 10 हजार रूपए सरकार की तरफ से दिए जाएंगे, वंही बचे हुए 10 हजार रूपए लोन के रूप में दिए जाएंगे जिस पर किसी तरह का ब्याज नही लगेगा।

यूपी टेलरिंग शॉप/सिलाई दूकान योजना

सिलाई-टेलरिंग योजना में समाज कल्याण विभाग की पारिवारिक लाभ योजना के लाभार्थियों व राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के हट गठित स्वंय सहायता समूह में सिलाई आदि के काम से जुड़े पुरूष और महिलाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। ध्यान रहे कि यह योजना अनुसुचित जाति वर्ग के गरीब एंव निर्धन लोगों के लिए ही है, लिहाजा अगर आप उत्तर प्रदेश के शहरी इलाके में रहते हैं तो आपकी वार्षिक आय 46,080 रूपए से अधिक ना हो, वंही ग्रामीण इलाके में रहने वाले  व्यक्ति की वार्षिक आय 56,460 से अधिक ना हो, तभी आप इस योजना का लाभ उठा पाएंगे। आवेदन की अंतिम तारीख 15 जून 2020 तय की गई है। अब जानते हैं इस योजना से जुड़े दस्तावेज उद्देश्य, लाभ और आवेदन प्रक्रिया

मिस न करें >> उत्तर प्रदेश सरकार की योजनाएं 

सिलाई-टेलरिंग दुकान योजना का उद्देश्य

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश में अनुसुचित जाति के बहुते से ऐसे लोग हैं जिनकी सालाना आय बेहद कम है या फिर इस समूह के लोग अधिक मात्रा में बेरोजगार हैं, ऐसे ही गरीब एंव निर्धन लोगों को रोजगार दिलाने और आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए ही इस सिलाई दुकान योजना की शुरूआत की गई है। योजना के जरिए इन यह लोग आत्मनिर्भर तो बनेंगे ही, साथ ही यह भी हो सकता है कि यह लोग कुछ समय में अन्य लोगों के लिए रोजगार का माध्यम भी बन जाएं।

UP Tailor/Silai Shop Scheme लाभ

  1. योजना के जरिए आर्थकि रूप से कमजोर अनुसुचित जाति के लोगों को रोजगार मिलेगा और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।
  2. आत्मनिर्भर बनाने के लिए उन्हे 20 हजार रूपए की आर्थिक सहायता प्रदानी जाएगी। जिसमें से 10 हजार लोन के तौर पर दिया जाएगा, लेकिन इस पर कोई ब्याज देने की आवश्यकता नहीं होगी।
  3. राज्यके ऐसे गरीब लोग जो सिलाई के काम काज में निपूण हैं लेकिन पैसा ना होने की वजह से असहाय हैं उन्हे इसका लाभ मिलेगा।
  4. कामकाज की तलाश में लोगों को राज्य से दूर जाने की आवश्यकता नहीं होगी। वह अन्य लोगों के रोजगार का भी कारण बनेंगे।
  5. प्रदेशमें इस मुहिम से बेरोजगारी कम होगी और राजस्व में भी अधिक धन एकत्रित होगा।

टेलरिंग शॉप योजना के लिए पात्रता

  • आवेदकमूल रूप से उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदकअगर ग्रामीण इलाके में रहता हो तो उसकी सालाना आय 56,460 रूपए से अधिक ना हो और शहरी इलाके में रहने वाले व्यक्ति की सालाना आय 46,080 रूपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • अनुसुचितजाति वर्ग के गरीब एंव बेरोजगार लोग ही आवेदन कर सकते हैं।
  • निगमकी किसी भी योजना का लाभ ले रहे लोग इस योजना में आवेदन नहीं कर सकेंगे।

सिलाई दुकान योजना में आवेदन हेतु दस्तावेज

  • वार्षिक आय प्रमाण पत्र
  • जाति/निवास प्रमाण पत्र
  • आधारकार्ड
  • निवासप्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

UP Tailor Shop/Silai Dukan Loan yojana, How to Apply, Registration Process

  • सिलाई दुकान योजना का लाभ उठाने के लिए सबसे पहले आवेदक को योजना से जुड़ा फॉर्म प्राप्त करने के लिए जिला समाज कल्याण विकास कार्यालय में जाना होगा। यंहा से फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • इसके बाद फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी भरनी होगी। साथ ही अपने दस्तावेजों की कॉपी भी फॉर्म के साथ अटैच करनी होगी।
  • इसके बाद फॉर्म को 15 जून 2020 से पहले भरकर जमा करना होगा।
  • इसकेबाद आपके फॉर्म की जांच होगी और सारी जानकारी सही पाए जाने पर आपको योजना का लाभ उठा पाएंगे

सम्बंधित प्रश्नोत्तर

[sc_fs_multi_faq headline-0=”h5″ question-0=”यूपी सिलाई दूकान योजना क्या है ?” answer-0=”उत्तर प्रदेश के रहने वाले इच्छुक लाभार्थियों के लिए सिलाई की दूकान खोलने के लिए लोन की व्यवस्था की जा रही है। इस स्कीम में लाभार्थियों की सरकार द्वारा कई लाभ दिए जाएंगे ” image-0=”” headline-1=”h5″ question-1=”योजना के लाभार्थी कौन लोग होंगे ?” answer-1=”अनुसूचित जाति के व्यक्ति, आवेदक जनपद का निवासी हो और गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाला हो। वार्षिक आय शहरी क्षेत्र में 56460 रुपये और ग्रामीण क्षेत्र में 46080 रुपये से अधिक न हो। आवेदन करने वाला व्यक्ति ने पूर्व में कोई ऋण या अनुदान न लिया हो। ” image-1=”” headline-2=”h5″ question-2=”टेलरिंग शॉप योजना के लिए आवेदन फॉर्म कहाँ से लें?” answer-2=”आवेदन फॉर्म निशुल्क जिला समाज कल्याण अधिकारी ऑफिस से लिए जा सकते हैं ” image-2=”” headline-3=”h5″ question-3=”आवेदन के लिए क्या कागज़ात जरुरी हैं?” answer-3=”जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र और स्वयं की भूमि का प्रमाण पत्र हेतु (बैनामा अथवा हाउस टैक्स की रसीद),बैंक पासबुक, राशन कार्ड, पहचान पत्र, प्रमाण पत्रों की फोटो प्रतियां, पासपोर्ट साइज का फोटो|” image-3=”” count=”4″ html=”true” css_class=””]