आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान (योजना) 2020।ऑन्लाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म


क्या है इस लेख में hide
1 आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान (योजना) का उद्देश्य

आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने के लिए आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान शुरू कर दिया गया है। इस अभियान के जरिए प्रदेश के निवासियों को रोजगार के अधिक अवसर प्रदान किए जाएंगे। आज ही यानी 26 जून 2020 को मोदी दी जी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोज़गार योजना की शुरूआत की है। योजना के माध्यम से प्रदेश के 1.25 करोड़ लोगो को रोजगार मुहैया कराने की जिम्मेदारी ली गई है। UP Atmanirbhar Rojgar Abhiyan/Yojana के जरिए राज्य में वापिस लौटे करीब 30 लाख प्रवासी मजदूर और अन्य बेरोजगार लोगों को काम काज दिया जाएगा, राज्य के जो भी लोग इस योजना में अपना रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हैं या फिर इस योजना से सम्बंधित किसी तरह की कोई जानकारी हासिल करना चाहते हैं वह हमारे साथ इस लेख पर अंत तक बने रहें।

ज्ञात हो की कोरोना काल में हुए लॉकडाउन के चलते देश के करोड़ो लोग बेरोजगार हो गए थे। इन लोगों के पास ना तो पैसा है और ना ही रोजगार, इसलिए मोदी सरकार ने देश को आत्मनिर्भर भारत बनाने का आवाहन दिया था। मोदी जी ने इस मिशन को पूरा करने के लिए 20 लाख करोड़ रूपए का आर्थिक पैकेज का ऐलान भी किया था। अब इसी मिशन को पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश भी आगे बढ़ गया है। मोदी सरकार की इस मुहिम के जरिए देश में सबसे अधिक रोजगार एक ही राज्य में पैदा किए जाएंगे। जिसका सबसे अधिक लाभ गरीब और निर्धन लोगों को दिया जाएगा।

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान (योजना) का उद्देश्य

जैसे की हम सभी जानते हैं कि कोरोना के कारण राज्य में एक भयंकर बेरोजगारी फैल गई है, लाखों मजदूर समेत बहुत से अन्य लोग भी बेरोजगार हो गए हैं, सराकर की इस योजना का उद्देश्य है कि राज्य के 1.25 करोड़ लोगों को रोजगार दिए जा सकें। ताकि उत्तर प्रदेश आत्मनिर्भर बन सकें और अब फिर से यंहा के लोगों को अपना घर छोड़ किसी अन्य राज्य का रूख ना करना पड़े।

UP Atmarnibhar Rojgar Abhiyan/ Yojana से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें।

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत MSME सेक्टर को 9100 करोड़ रूपए के कर्ज दिया जाएगा, जिसके जरिए स्किल मैपिंग में चिन्हित किए गए 1.25 हजार युवाओं को कंपनियां औपचारिक रूप से नियुक्ति करेंगी।
  • योजना में 31 जिलों की 32300 ग्राम पंचायतों को शामिल किया गया है। इनमें सिद्धार्थनगर, प्रयागराज, गोंडा, महराजगंज, बहराइच, बलरामपुर, जौनपुर, हरदोई, आजमगढ़, बस्ती, गोरखपुर, सुलतानपुर, कुशीनगर, संतकबीरनगर, बांदा, अम्बेडकरनगर, सीतापुर, वाराणसी, गाजीपुर, प्रतापगढ़, रायबरेली, अयोध्या, देवरिया, अमेठी, लखीमपुर खीरी, उन्नाव, श्रावस्ती, फतेहपुर, मीरजापुर, जालौन और कौशाम्बी शामिल हैं।
  • आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना में लगभग एक दर्जन विभागो को और 25 तरह के कार्यो को चिन्हित किया गाय है। 

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना

यह योजना जरूर देखें>>>>> कृषक दुर्घटना कल्याण योजना 

आत्मनिर्भर यूपी रोज़गार योजना के लिए चुने गए विभागों की सूची

  • ग्राम्य विकास
  • पंचायती राज
  • सड़क परिवहन
  • खनन
  • रेलवे
  • पेयजल व स्वच्छता
  • पर्यावरण व वन
  • पेट्रोलियम व नेचुरल गैस
  • वैकल्पिक ऊर्जा, 
  • रक्षा 
  • टेली कम्युनिकेशन
  • कृषि विभाग

UP Atmanirbhar  Rojgar Yojana के लाभ

  • योजना के माध्यम से 1.25 करोड़ लोगों को रोजगार प्राप्त होंगे। 
  • 2.40 लाख इकाइयों को  आत्मनिर्भर भारत के तहत  5900 करोड़ रूपए का कर्ज दिया जाएगा।
  • 1.11 लाख नई इकाइयों को 3226 करोड़ रूपए का कर्ज दिया जाएगा।
  • 1.25 लाख युवाओं को को निजी कंपनियों द्वारा नियुक्ति पत्र दिया जाएगा।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत  5000 कामगारों को किट दी जाएगी।
  • स्कीम के माध्यम से राज्य से बेरोजगारी कम होगी।
  • देश की पहली योजना जिसके जरिए इतनी बड़ी संख्या में रोजगार दिए जाएंगे।
  • राज्य की आर्थिक हालत में सुधार होगा। 
  • लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
  • राज्य का विकास होगा।

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रजिस्ट्रेशन हेतु पात्रता एंव दस्तावेज

  • आवेदन करने वाला व्यक्ति का प्रदेश का ही मूल रूप से निवासी होना चाहिए
  • निवासी प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड 
  • मोबाइल नंबर 
  • बैंक खाता

UP Atmanirbhar Rojgar Abhiyan/Yojana Apply Online Registration Form

अगर आप भी उत्तर प्रदेश के नागरिक हैं और आत्मनिर्भर रोजगार योजना के तहत नौकरी या काम हासिल करना चाहते हैं, तो आपको थोड़ा सा इंतजार करना होगा। अभी सरकार ने केवल इस योजना का ऐलान किया है। जमीनी स्तर पर इस अभियान पर जल्द ही काम शुरू हो जाएगा और तब आप इस योजना का लाभ उठा पाएंगे।

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान से सम्बंधित प्रशनोत्तर

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना में कितने लोगों को रोजगार दिए जाएंगे?

इस मिशन के तहत 1.25 करोड़ लोगों को रोजगार के अवसर दिए जाएंगे।

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश योजना में क्या कोई भी आवेदन कर सकेगा?

नहीं इसमें केवल उत्तर प्रदेश के नागरिक ही आवेदन कर सकेंगे।

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना के लिए कितने जिले चुने गए हैं।

इस योजना के लिए 31 जिलों को चुनाव किया गया है।

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना में कितने कार्यों को चिन्हित किया गया है?

इस योजना के तहत 25 सेक्टरों को चिन्हित किया गया है, जिनमें लोगों को काम दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें>>>> जानिए क्या है आत्मनिर्भर भारत अभियान के प्रमुख कदम