UP Agriculture Token Generate कृषि यन्त्र/खेत तालाब टोकन अभी निकालें, डाउनलोड करें upagriculture.com 81

इस लेख में विस्तार से जानेंगे उत्तर प्रदेश एग्रीकल्चर पोर्टल (up agriculture) पर टोकन जनरेट (generate token) कैसे करते हैं अगर आप भी ऑनलाइन टोकन निकालना चाहते हैं तो इस लेख में दी गई जानकारी को अच्छे से पढ़ें | उत्तर प्रदेश सरकार ने एग्रीकल्चर पोर्टल पर कृषि यंत्र टोकन और खेत तालाब हेतु टोकन निकालने की सुविधा दी है | अगर आप भी टोकन जनरेट करना चाहते तो पढ़ना जारी रखें |

क्या है upagriculture portal

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के किसानों के लिए सभी जानकारी एवं ऑनलाइन सुविधाएं एक स्थान पर उपलब्ध कराने के लिए एक वेबसाइट की स्थापना की जिसे यूपी एग्रीकल्चर पोर्टल कहते हैं | यहाँ पर किसानों के लिए नई योजनाओं की जानकारी, ऑनलाइन आवेदन व् नई जानकारियां समय समय पर अपलोड की जाती हैं | upagriculture.com token generate करने के लिए भी आपको इसी पोर्टल पर जाना होगा | प्रदेश के सभी जिलों के किसान इसी वेबसाइट के माध्यम से कृषि यन्त्र टोकन और खेत तालाब हेतु टोकन ऑनलाइन निकाल पाएंगे |

upagriculture.com token generate कैसे करें


→ विभाग ने हाल ही में खेत तालाब और कृषि यंत्रों के टोकन निकालने के लिए दो नए लिंक चालु किये हैं, अब आप उनका इस्तेमाल करके टोकन जेनेरेट कर सकते हैं |

इससे पहले की आपको प्रक्रिया समझाएं कुछ बातों का ध्यान रखें

  • आवेदक को अपना किसान पंजीकरण नंबर पता होना चाहिए
  • मांगे जाने पर आधार नंबर भरना होगा
  • किसान पंजीकरण के समय जो मोबाइल नंबर भरा था कृपया उसी नंबर का इस्तेमाल करें
  • टोकन जेनेरेट करने के लिए आपको यंत्र या खेत तालाब की जानकारी देनी होगी

आईये अब प्रक्रिया समझते हैं |

कृषि यंत्र ऑनलाइन token generate upagriculture

  • सबसे पहले upagriculture portal पर जाएँ
  • थोड़ा स्क्रॉल करके पेज के अंत तक जाएँ और “यंत्र/खेत तालाब पर अनुदान हेतु टोकन निकालें” लिंक पर क्लिक करें
  • अब नए पेज पर आपको यह विकल्प दिखेंगे
UP Agriculture Token Generate कृषि यन्त्र/खेत तालाब टोकन अभी निकालें, डाउनलोड करें upagriculture.com 81
  • अब “यंत्रों हेतु टोकन जेनेरेट लिंक करें” पर क्लिक करें
  • अब बुकिंग पेज खुलेगा जहाँ आपको अपना जनपद चुन कर पंजीकरण संख्या भरनी है
  • फिर खोजें बटन पर क्लिक करें और आपको जानकारी उसी पेज पर नीचे दिखेगी
  • अब अपनी आधार संख्या भर के “आगे बढ़ें” बटन को दाबें
UP Agriculture Token Generate कृषि यन्त्र/खेत तालाब टोकन अभी निकालें, डाउनलोड करें upagriculture.com 81
  • इसके बाद आपको यंत्र चुनना है
UP Agriculture Token Generate कृषि यन्त्र/खेत तालाब टोकन अभी निकालें, डाउनलोड करें upagriculture.com 81
  • इसके बाद आगे बढ़ें बटन पर क्लिक करके आप मोबाइल नंबर की जानकारी देके आसानी से टोकन नंबर निकाल पाएंगे

यह भी पढ़ें :

यूपी मुफ्त मोबाइल/टेबलेट योजना

यूपी ऑनलाइन राशन कार्ड लिस्ट कैसे देखते हैं

उत्तर प्रदेश में किसी भी जमीन का नक्शा निकालें ऑनलाइन

यूपी भूलेख पोर्टल पर जमीन की जानकारी निकालें

यूपी सरकारी योजना सूची

खेत तालाब पर अनुदान हेतु upagriculture portal token generation, download

हाल ही में कृषि यंत्रों के अलावा खेत तालाब पर अनुदान हेतु ऑनलाइन टोकन निकालने की सुविधा शुरू की गई है। अगर आप भी इस सुविधा का लाभ लेना चाहते हैं तो यह प्रक्रिया अवश्य समझें :

  • सबसे पहले आधिकारिक पेज upagriculture.com पर पहुचें
  • इस पेज पर आपको टोकन पेज का लिंक मिलेगा, क्लिक करके वहां पहुंचें
  • अब “खेत तालाब हेतु टोकन जेनेरेट की व्यवस्था लिंक” पर क्लिक करें
UP Agriculture Token Generate कृषि यन्त्र/खेत तालाब टोकन अभी निकालें, डाउनलोड करें upagriculture.com 81
  • सब अपना जनपद चुनिए, पंजीकरण संख्या का विवरण देने हेतु विकल्प चुनें और अंत में संख्या भर दें और “खोजें” बटन पर क्लिक करें
UP Agriculture Token Generate कृषि यन्त्र/खेत तालाब टोकन अभी निकालें, डाउनलोड करें upagriculture.com 81
  • अब आपकी जानकारी पेज में दिख जाएगी आपको अब खेत तालाब चुनें ऑप्शन में जाकर “लघु तालाब टोकन धनराशि 1000 रुपये को चुनना है” और आगे बढ़ें बटन पर क्लिक करना है
UP Agriculture Token Generate कृषि यन्त्र/खेत तालाब टोकन अभी निकालें, डाउनलोड करें upagriculture.com 81
  • इसके बाद मोबाइल नंबर डालकर बुकिंग पूरा कर पाएंगे

जरुरी लिंक्स

upagriculture token FAQs

UP agriculture portal पर token generate सुविधा क्या है?

किसानों को यंत्रो और खेत तालाब अनुदान हेतु टोकन बुकिंग की सुविधा प्रारम्भ की गई है |

टोकन जेनेरेट करने के लिए किसान को क्या जानकारी देनी होगी?

किसान को पंजीकरण संख्या, आधार संख्या और कृषि यंत्र या खेत तालाब चुनना होगा|

क्या मोबाइल नंबर भी देना होगा?

जी हाँ मांगे जाने पर किसान को पंजीकरण के समय इस्तेमाल किया गया मोबाइल नंबर देना होगा|