Skip to content

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा 2024-25| ऑनलाइन आवेदन किसान पंजीकरण फॉर्म | Meri Fasal Mera Byora Haryana, Farmer Registration

Meri Fasal Mera Byora ( मेरी फसल मेरा ब्यौरा ) योजना एक महत्वपूर्ण योजना है। भारत एक कृषि प्रधान देश है। यहां की 70% आबादी गांव में निवास करती है। जिनका मुख्य व्यवसाय कृषि है। कृषि के उत्पादन में भारत महत्वपूर्ण भागीदारी निभाता है। किसानों को आर्थिक तथा कृषि संबंधित सामग्रियों की आवश्यकता होती है। जिनके लिए किसान सरकार अथवा निजी संस्थाओं पर निर्भर रहते हैं। भारत के ज्यादातर किसान छोटे जोत वाले किसान होते हैं। इन किसानों के पास खेती से संबंधित उपकरण तथा सुविधाओं के लिए विभिन्न स्थानों पर जाकर लाना पड़ता था।

जब इस तरह की समस्या भारत के राज्य हरियाणा के सामने आई तो  हरियाणा ने अपने राज्य के किसानों के लिए एकमात्र कांची तथा लाभकारी योजना का शुभारंभ किया है। जिसका नाम मेरी फसल मेरा ब्यौरा है। यह योजना हरियाणा के किसानों के लिए अति लाभकारी साबित होगी। इसके लिए राज्य सरकार ने रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। सरकार ने किसानों को किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो इसके लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिया है।

आज हम इस लेख में आपको मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी बताएंगे तथा यज्ञ बताएंगे कि इस योजना के लिए पंजीयन कैसे करें।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना क्या है, ( Meri Fasal Mera Byora Haryana )

इस योजना का शुभारंभ हरियाणा सरकार द्वारा किया गया है। यह राज्य कृषि विभाग द्वारा संचालित किया जाता है। इसके अंतर्गत किसानों को विभिन्न सुख सुविधाएं प्रदान की जाएंगी, जिससे किसान अपनी फसलों को आसानी से बेच सकें। उन्हें यह भी सुविधा दी जाएंगी जिससे वह खाद, बीज, उपकरण आदि आसानी से खरीद सके। यह किसानों के लिए अत्यधिक लाभकारी योजना है। इसके साथ पंजीकरण करने वाले किसानों को  प्राकृतिक आपदा, बीमा, फसल मुआवजा आदि आसानी से प्राप्त हो जाएगा।

इसमें केवल किसानों को पंजीकरण करके अपनी फसल के बारे में जानकारी देना है। हरियाणा की कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जेपी दलाल की उपस्थिति में बैठक में यह कहा गया कि किसानों को ₹1975 प्रति क्विंटल गेहूं कथा ₹4650 प्रति क्विंटल सरसों खरीदा जाएगा जो कि किसान के लिए अत्यधिक लाभकारी है। बैठक में यह भी बताया गया कि गेहूं की खरीदी के लिए 389 मंडिया स्थापित की जाएंगी इसके साथ ही चना और सरसों के लिए भी मंडिया स्थापित की जाएगी।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का उद्देश्य

हरियाणा राज्य ने अपने किसानों के लिए हर सुविधाओं का ध्यान रखते हुए इस योजना को बनाया है। इस योजना का उद्देश्य किसानों की समस्याओं को दूर करना है। जिसे किसान आत्महत्या जैसी गलत हरकत ना कर सके  इसके साथ ही जब प्राकृतिक आपदा तथा अन्य कारणों से फसल नष्ट हो जाती है तो किसानों को फसलों की बीमा तथा मुआवजा देकर किसानों के ऊपर आए आर्थिक दबाव को कम करना है।

इसका यह भी उद्देश्य है कि किसानों को ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा उपलब्ध करा कर बीज कृषि उपकरण सब्सिडी आदि उपलब्ध करवाना है। जिससे किसान अपनी फसल का उचित दाम प्राप्त कर सकें तथा किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए मंडियों के बारे में भी जानकारी उपलब्ध कराना है।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना का लाभ

  • इस योजना से किसानों की फसल का उचित दाम प्राप्त होगा, जिससे उन्हें किसी प्रकार का कर देने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • इस योजना के तहत किसानों को सरकार द्वारा दी जाने वाली वित्तीय सहायता प्राप्त होगी।
  • इस योजना से किसानों को ऋण, बीज, खाद्य एवं कृषि उपकरण की जानकारी उपलब्ध करवाई जाएंगी।
  • ऑनलाइन सुविधा के माध्यम से प्राकृतिक आपदा के कारण जो फसलों को नुकसान होता है उसका मुआवजा सीधे किसानों के बैंक खाते में पहुंचा दिया जाएगा।
  • यह किसानों को ऑनलाइन सुविधाओं से जोड़ने का सबसे अच्छा तरीका है।
  • इससे किसान सशक्त तथा आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • किसानों को राज्य में विभिन्न मंडियों के बारे में जानकारी प्राप्त होगी जिससे उन्हें अपनी फसल बेचने में किसी प्रकार की असुविधा नहीं होगी।
  • किसानों को सरकारी योजनाओं की जानकारी प्राप्त नहीं हो पाती है परंतु इस पोर्टल को बड़ा आसान और सरल बनाया गया है जिससे किसानों को आसानी से सरकारी योजनाओं की जानकारी प्राप्त हो जाया करेगी।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना हेतु पात्रता

  • आवेदक भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक हरियाणा का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक के पास कृषि योग्य जमीन होना चाहिए।
  • आवेदक के पास जमीन से संबंधित आवश्यक दस्तावेज होना चाहिए।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना हेतु जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • पासपोर्ट साइज का फोटो
  • जमीन से संबंधित दस्तावेज
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें Meri Fasal Mera Byora Haryana Farmer Registration

ऑनलाइन पोर्टल का डिजाइन बड़ा ही आसान और सरल बनाया गया है। जिससे कोई भी किसान को रजिस्ट्रेशन करते समय समस्या नहीं होगी। इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को नीचे दिए गए निम्नलिखित स्टेप्स फॉलो करने होंगे जो इस तरह से है:-

  • सर्वप्रथम आवेदक को इस योजना की official website पर जाना होगा।
  • https://fasal.haryana.gov.in/
  • अब आपके सामने एक Home page open हो जाएगा।
  • इस page में आपको Panjikaran का option दिखाई देगा उस पर click करें।
  • जैसे ही आप option पर click करते हैं तो एक नया पेज खुल जाएगा इस पेज में आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना है और सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • फिर अगले पेज में आपसे कुछ जानकारी पूछी जाएंगी जैसे आधार कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर, परिवार आईडी आदि सारी जानकारी उचित तरीके से भर दे।
  • अब आपके मोबाइल में OTP नंबर आएगा, इसके बाद आपके सामने पंजीकरण का फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में चार चरण में आपसे जानकारी पूछी जाएगी।
  • पहले चरण में किसान का पंजीकरण होगा, दूसरे चरण में फसल का विवरण की जानकारी भरना होगा, तीसरे चरण में बैंक का विवरण देना होगा और चौथे चरण में मंडी का विवरण देना होगा।
  • सारी जानकारी भरने के बाद submit के button पर click कर दें।
  • इस तरह से आप इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना के लिए Helpline number.

Helpline Number – 18001802060

Toll-Free Number – 18001802117

Email ID – hsamb.helpdesk@gmail.com

आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी से आप संतुष्ट होंगे। इस लेख का उद्देश्य मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान करना है जिससे कि किसानों को इस योजना का लाभ प्राप्त हो सके।

FAQ

Q:- मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना क्या है?

Ans :- यह एक किसानों के लिए चलाई जा रही योजना है इसके अंतर्गत फसल तथा किसानों से संबंधित जानकारियां उपलब्ध करवाई जाती है।

Q:- मेरी फसल मेरा ब्योरा में शिकायत कैसे करें?

Ans :- इस पोर्टल के हेल्पलाइन नंबर 18001802060 पर कॉल करके शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

Q: – क्या मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल में हरियाणा से बाहर के किसान भी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं?

Ans :- जी हां