[स्टार्ट अप इंडिया ] स्टैंड अप इंडिया योजना|ऑनलाइन आवेदन |एप्लीकेशन फॉर्म|

स्टैंड अप इंडिया योजना|स्टार्ट अप इंडिया स्कीम|स्टैंडअप इंडिया स्कीम इन हिंदी|स्टैंड अप इंडिया स्कीम डिटेल्स|स्टैंड अप इंडिया लोन|स्टैंड अप इंडिया लोन एप्लीकेशन फॉर्म|startup india scheme eligibility in hindi|start up india yojna in hindi|स्टार्ट अप इंडिया लोन स्कीम

प्यारे भारतवासियों आप सभी को यह जानकर बहुत ही खुशी होगी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने स्टैंड अप इंडिया का उद्घाटन किया है इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि जो भी  लोग हैं जैसे कि अनुसूचित जाति ,जनजाति और महिलाएं उनको रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएं ताकि वह आसानी से स्टैंड अप इंडिया योजना का लाभ लेकर अपना नया कारोबार शुरु कर सकें|

स्टैंड अप इंडिया योजना का उद्देश्य कम से कम एक अनुसूचित जाति (एससी) या अनुसूचित जनजाति (एसटी) या कम से कम एक महिला उधारकर्ता को एक  उद्यम स्थापित करने के लिए बैंक की शाखा के अनुसार 10 लाख से 1 करोड़ के बीच बैंक से ऋण लेने की सुविधा होगी। गैर-व्यक्तिगत उद्यमों में कम से कम 51% और शेयर के मामले में नियंत्रण हिस्सेदारी या तो एक अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति या महिला उद्यमी द्वारा आयोजित किया जाना चाहिए।

Stand-up India Scheme

स्टैंड अप इंडिया योजना का उद्देश्य

  • दोस्तों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का स्टैंड अप इंडिया योजना को जलाने का मुख्य उद्देश्य है कि हमारे देश के जो भी पिछड़ा वर्ग के लोग हैं वह अपना कारोबार लोन लेकर चला सके ताकि उनको बोझ तले जिंदगी ना जीने पड़े |और वह अपने पैरों पर खड़े होकर अपना कारोबार सही ढंग से कर सकें |
  • (स्टैंड-अप इंडिया) योजना का उद्देश्य प्रत्येक बैंक शाखा द्वारा कम से कम एक अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के उधारकर्ता और एक महिला उधारकर्ता को नई (ग्रीनफ़ील्ड) परियोजना की स्थापना के लिए रु. 10 लाख से रु. 1 करोड़ के बीच बैंक ऋण प्रदान करना है।
  • ये उद्यम विनिर्माण, सेवा या व्यापार क्षेत्र से संबंधित हो सकते हैं।
  • गैर-व्यक्ति उद्यम के मामले में, 51% शेयरधारिता व नियंत्रक हिस्सेदारी अनुसूचित जाति /अनुसूचित जनजाति या महिला उद्यमी के पास होनी चाहिए।

स्टैंड-अप इंडिया ऋण योजना के लाभ

  • 10 लाख रूपये से 1 करोड़ ऋण लेने का लाभ
  • अनुसूचित जाति /अनुसूचित जनजाति और महिला उद्यमियों को ऋण का लाभ
  • पिछड़ी जाति के लोग भी अपना कारोबार अच्छे से चला सकेंगे|
  • अब गरीब व्यक्ति भी स्टैंड अप इंडिया के द्वारा लोन लेकर अपना कारोबार आसमान तक पहुंचा सकेंगे |
  • वह अपना जीवन यापन अच्छे से कर सकेंगे|
  • स्टैंड अप इंडिया का उद्देश्य महिलाओं और अनुसूचित जाति /अनुसूचित जाति के उद्यमियों की सहायता करना है ।
  • लोगों को 5लाख का ऋण देकर समर्थन करना ।
  • उद्यम शुरू करने पर पहले तीन साल आयकर में छुट ।
  • आवेदन करने के लिए एक छोटा सा फार्म भरने पर लाइसेंस की प्रक्रिया जल्द स्वचालित हो जाएगी ।
  • एक फास्ट ट्रैक रोड मैप का गठन और एक समर्पित वेबसाइट और आवेदन विकसित किया जाएगा ।
  • शुरुआत करने के लिए 10 लाख से 1 करोड़ रूपये तक के ऋण की मंजूरी ।

स्टैंड-अप इंडिया ऋण योजना के लिए पात्रता

  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति और/या महिला उद्यमी, जिनकी आयु 18 वर्ष से अधिक है।
  • योजना के अंतर्गत सहायता केवल नई (ग्रीनफ़ील्ड) परियोजनाओं के लिए उपलब्ध है। इस संदर्भ में, नई (ग्रीनफ़ील्ड) परियोजना का अर्थ है – लाभार्थी का विनिर्माण या सेवाक्षेत्र या व्यापार क्षेत्र में पहली बार उद्यम लगाना।
  • गैर-व्यक्ति उद्यम के मामले में, 51% शेयरधारिता या नियंत्रक हिस्सेदारी अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति और/या महिला उद्यमी के पास होनी चाहिए।
  • उधारकर्ता किसी बैंक/वित्तीय संस्था के प्रति चूककर्ता न हो।

स्टैंड-अप इंडिया ऋण योजना के लिए  दस्तावेज

ब्याजदर

ब्याज दर संबंधित निर्धारित श्रेणी (रेटिंग श्रेणी) के लिए बैंक द्वारा प्रयोज्य न्यूनतम ब्याज दर होगा, जो (आधार दर (एमसीएलआर) + 3% + आशय प्रीमियम) से अधिक नहीं होगा।

ऋण की वापिसी

अधिकतम 18 माह की ऋण स्थगन की अवधि सहित ऋण की वापिसी 7 वर्षों में की जाएगी।

स्टैंड-अप इंडिया ऋण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

  • आवेदनकर्ता को स्टैंड अप इंडिया के तहत लोन लेने के लिए दिए गए वेबसाइट पर जाना होगा |
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपको लॉगइन [login] पेज आएगा|
  • उस [login]पर क्लिक करें|
  • यूजर नेम[user name,password] और पासवर्ड भरें|
  • एक बार लॉग इन करने के बाद आवेदन फार्म भरने पर आवेदन सीधे लोन विभाग और आपके चुने हुए बैंक को भेज दिया जाएगा|

स्टैंड-अप इंडिया ऋण योजना ऑफलाइन आवेदन

स्टैंड अप इंडिया ऋण योजना के लिए आवेदन तीन तरीकों से किया जा सकता है |

  • वेब पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन
  • सीधे बैंक शाखा में
  • अपनी अग्रणी जिला प्रबंधक के माध्यम से

राष्ट्रीय हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर: 18001801111

 more information: स्टैंड-अप इंडिया

दोस्तों यदि आप स्टैंड अप इंडिया से संबंधित कुछ पूछना चाहते हैं तो कमेंट करें हम आपके प्रश्नों का जवाब जरूर देंगे हमारे फेसबुक पेज को लाइक करना ना भूलें हम आपको इसमें मिल अपडेट होते रहेंगे देते रहेंगे|

Comments are closed.