श्रेयस योजना 2019| ऑनलाइन आवेदन| Shreyas yojana in hindi


श्रेयस योजना 2019 | Shreyas Yojana 2019 | श्रेयस योजना | Shreyas Yojana | श्रेयस स्कीम 2019 | Shreyas Scheme 2019 | श्रेयस स्कीम | Shreyas Scheme | Shreyas Scheme In Hindi | Shreyas Yojana Registration | श्रेयस योजना रजिस्ट्रेशन

श्रेयस योजना से युवाओं को रोजगार प्राप्त करने और देश की प्रगति में योगदान करने में सहायता मिलेगी | Shreyas Scheme 2019 के अंतर्गत फ्री स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग स्कीम निकली गई है |

श्रेयस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि पढ़े लिखे बेरोजगारों को रोजगार के लिए तैयार करना है. योजना के तहत शिक्षित छात्रों को रोजगार के लिए प्रशिक्षित किया जायेगा ताकि उन्हें योग्यता के अनुसार रोजगार मिल सके

श्रेयस योजना 2019

क्र. म.योजना की जानकारी बिंदुयोजना की जानकारी
1.योजना का नामश्रेयस योजना
2.योजना का लांचमानव एवं संसाधन मंत्री प्रकाश जावडेकर द्वारा
3.योजना की घोषणा28 फरवरी, 2019
4.योजना के लाभार्थीनए नॉन – टेक्निकल ग्रेजुएट्स छात्र
5.विभागों द्वारा देखरेखमानव संसाधन विकास मंत्रालय, श्रम एवं रोजगार मंत्रालय और कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय
6.संबंधित योजनाराष्ट्रीय शिक्षा प्रोत्साहन योजना
7.योजना का लक्ष्य50 लाख छात्र
श्रेयस योजना 2019 का उद्देश्य
  1. अपरेंटिसशिप और स्किल्स (SHREYAS) के लिए उच्च शिक्षा के युवाओं के लिए यह योजना यह सुनिश्चित करना चाहती है कि उच्च शिक्षा प्रणाली से पास होने वाले कम-से-कम आधे छात्रों को 2022 तक अपने डिग्री कार्यक्रमों को पूरा करने पर उपयुक्त रोजगार मिल जाए।
  2. SHREYAS कार्यक्रम को प्राथमिक बीए, बी.कॉम, बीएससी मुख्य रूप से गैर-तकनीकी डिग्री पाठ्यक्रमों के लिए माना जाता है, ताकि उनके सीखने में रोजगार योग्य कौशल का परिचय दिया जा सके।
  3. यह कार्यक्रम उच्च शिक्षा से बाहर करने के बाद नए सिरे से नौकरी के अवसरों में सुधार करना चाहता है।

श्रेयस योजना को लागू करने में 3 ट्रैक

इस योजना का बेहतर संचालन हो सके इसलिए इस योजना को 3 ट्रैक में लागू किया जायेगा!

  • पहला ट्रैक ऐड ऑन एप्रेंटिसशिप है, जिसके तहत वे छात्र जो वर्तमान में डिग्री पूरी कर रहे हैं, उन्हें कौशल विकास एवं रोजगार मंत्रालय के सेक्टर स्किल काउंसिल द्वारा की गई चयनित सूची में से अपनी पसंद की नौकरी चुनने के लिए बुलाया जायेगा और उन्हें उसके अनुसार प्रशिक्षित किया जायेगा!
  • दूसरा ट्रैक एम्बेडेड एप्रेंटिसशिप है, जिसमें मौजूदा कार्यक्रमों को बीए, बीएससी या बीकॉम कोर्सेज में पुनः मिला दिया जायेगा! साथ ही इसमें न केवल शैक्षिक इनपुट एवं व्यवसायिक इनपुट को शामिल किया जायेगा बल्कि इसमें कौशल की आवश्यकता के आधार पर उन छात्रों को 6 से 10 महीने तक शिक्षा भी प्रदान की जाएगी!
  • अंतिम ट्रैक में श्रम और रोजगार मंत्रालय के राष्ट्रीय करियर सेवा पोर्टल को उच्च शिक्षा संस्थानों के साथ जोड़ा जायेगा!

श्रेयस योजना के लिए योग्यता

  • छात्रों के लिए भारत का कानूनी रूप से नागरिक होना आवश्यक है!
  • इस योजना के लिए आवेदक एक छात्र ही हो सकता है फिर चाहे वह देश के किसी भी सरकारी या निजी कॉलेज में अध्ययन कर रहा हो!
  • यह योजना उन छात्रों के विकास के लिए लागू की गई है जो नॉन – टेक्निकल क्षेत्र में अध्ययन कर रहे हैं. जैसे कि केवल बीए, बीएससी और बीकॉम में ग्रेजुएशन करने वाले छात्र ही इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं!
  • केवल वे छात्र जो अप्रैल – मई 2019 से कॉलेज से पास आउट होंगे, इस योजना के लिए नामांकन कर सकते हैं!

श्रेयस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

  • रजिस्ट्रेशन करने के लिए सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
  • आधिकारिक वेबसाइट (Official Website) पर जाने के लिए यहां पर क्लिक करें|
  • आपकी स्क्रीन पर इस प्रकार का एक पेज ओपन होगा|

  • आपको Institute Register Now पर क्लिक करना होगा|
  • डायरेक्ट जाने के लिए आप यहां पर भी क्लिक कर सकते हैं|
  • इसके बाद आपके पास Institute Registration का पेज ओपन हो जाएगा|
  • इसमें अपनी State तथा Select Your Institute का चयन करें तथा Head of Institution’s Email भरे|
  • आपकी स्क्रीन पर दिखाया गया Captcha Code भरे तथा Send Registration Detail पर क्लिक करें|
  • Login करने के लिए यहां पर क्लिक करें|
  • इसमेंअपना UsernamePassword तथा Captcha Code भरकर Login पर क्लिक करें|

दोस्तों इस प्रकार से आपका योजना के लिए रजिस्ट्रेशन हो जाएगा

दोस्तों अगर आप Shreyas yojana से संबंधित कोई भी प्रश्न पूछना चाहते हैं तो कमेंट कर दे नीचे हम आपके सभी प्रश्नों का जवाब देंगे हमारे फेसबुक पेज को जरुर लाइक और शेयर करें ताकि आप नई जानकारियां प्राप्त कर सकें

 

 

31 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.