मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना |समग्र पोर्टल रजिस्ट्रेशन /श्रमिक पंजीयन MP ROJGAR SETU YOJANA


MP Rojgar Setu Yojana, Online Registration, Application Form 2020

मध्यप्रदेश में रहने वाले तथा अन्य राज्यों से लौटे हुए प्रवासी मजदूरों को अब फिर से दूसरे राज्य में जाने की आवश्यकता नहीं होगी, क्योंकि बीते दिनों मध्यप्रदेश के मुख्य़मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रोजगार सेतु योजना का ऐलान किया है (Madhya Pradesh Rojgar Setu Yojana)।

इस योजना के तहत लोगों को उनकी काबिलियत के हिसाब से काम दिया जाएगा। रोजगार सेतु योजना में Registration भी शुरू कर दिया गया है। इसके बाद जल्द ही लोगों को अपने राज्य में ही काम मिल जाएगा। अब जो भी लोग इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, वह अपना पंजीकरण करा सकते हैं। अगर आप पंजीयनऔर इस योजना से जुड़ी कोई भी जानकारी जानाना चाहते हैं, तो इसके लिए हमारे साथ अंत तक बने रहें।

रोजगार सेतु योजना के तहत वापस लौट कर आए प्रवासी और अन्य मध्यप्रदेश के लोगों को रोजगार के अधिक अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे। इस योजना के लिए आपको ऑनलाइन ही आवेदन करना होगा। रोजगार सेतु योजना को कामयाब बनाने के लिए पहले चरण में काम होना शुरू हो गया है।अन्य राज्यों से लौटे प्रवासी मजदूरों की भी सूची तैयार की जा रही है। बताया जा रहा है कि राज्यों से लौटने वाले मजदूरों की संख्या करीब 5 लाख है। इन सभी लोगों को राज्य में ही रोजगार मिल जाए ऐसा प्रयास मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी द्वारा किया जा रहा है

क्या है मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना (ROJGAR SETU YOJANA)

ROJGAR SETU YOJANA

इस योजना के माध्यम से एक ऐसा मंच तैयार किया जाएगा। जंहा व्यापारियों और काम की इच्छा रखने वाले लोगो को एक साथ लाया जाएगा। इसमें लोग जिस भी प्रकार का काम करना चाहते हैं, वह कर पाएंगे। लोगों को अपनी काबिलयत के हिसाब से काम मिलेगा।

MP ROJGAR SETU योजना का उद्देश्य 

हम सभी जानते हैं कोरोना वायरस की महामारी के बीच अगर सबसे ज्यादा  किसी ने दिक्कतों का सामना किया है, तो वह प्रवासी मजदूर हैं। प्रवासी मजदूरों को पहले काम की तलाश में बाहर जाना पड़ा। लेकिन खाने पीने और रहने के सुविधा ना हो पाने की वजह से वह वापिस अपने राज्यों में लौट आए हैं।

इसलिए मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य में लौटे सभी लोगो को रोजगार दिलाने के लिए रोजगार सेतु योजना का ऐलान किया है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य मजदूरों को काम दिला कर उनकी आर्थिक स्थिति को मजबूत करना है। साथ ही इस मंच के जरिए लोगों को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराए जाने का लक्ष्य तय किया गया है, ताकि लोग अब राज्य छोड़कर पलायन ना करें।

मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने इस योजना की जानकारी ट्वीट के माध्यम से दी :

यह था ट्वीट :

हर श्रमिक का कल्याण मेरा संकल्प है। देश के दूसरे राज्यों से लौटे अपने कुशल श्रमिक भाई-बहनों को रोजगार देने के लिए मैंने #रोजगार_सेतु योजना बनाई है। 27 मई से इन श्रमिकों की सूची बनाने का काम प्रारम्भ हो रहा है, ताकि इनकी योग्यतानुसार इनके लिए रोजगार की व्यवस्था की जा सके।

https://twitter.com/ChouhanShivraj/status/1265344445521616897
MP Rojgar Setu Scheme

रोजगार सेतु योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ मध्य प्रदेश में लौटकर आए प्रवासी मजदूरों को  होगा।
  • मध्य प्रदेश के निवासियों को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे। इस मंच पर उन्हे उनके काबिलियत के हिसाब से काम दिए जाएंगे। 
  • योजना का लाभ उठाने के लिए पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा।
  • सभी प्रवासी मजदूरों को अपना पंजीकरण हेतु योजना का फॉर्म ऑनलाइन ही भरना होगा।
  • पंजीकरण कराते समय खुद की निजी और काम से संबंधित सभी  जानकारियां दर्ज करनी अनिवार्य होगी।
  • कोरोना वायरस की वजह से अब तक करीब 5 लाख मजदूर मध्य प्रदेश में लौट आए हैं ,और बताया जा रहा है कि जल्द ही बहुत से मजदूर भी यंहा वापिस आ जाएंगे।

इन क्षेत्रों में मुहैया कराए जाएंगे रोजगार

  • भवन और अन्य निर्माण श्रमिक वर्ग
  • ईंट भट्टा खनन
  • कपड़ा उद्योग
  • फैक्टरी
  • कृषि और संबद्ध गतिविधियां
  • इसके अलावा कई अन्य सेक्टर्स

योजना में आवेदन हेतु पात्रता एंव दस्तावेज

  • आवेदक मध्य प्रदेश का ही निवासी हो
  • आवेदक का बेरोजगार होना अनिवार्य है
  • जिन लोगों की समग्र आईडी नहीं बनी है उनकी समग्र आईडी जनरेट की जाएगी इसके बाद वह भी पंजीकरण करा सकते हैं
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र 
  • पहचान पत्र
  •  मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Rojgar Setu Yojana Apply, Online Shramik Registration Form

इससे पहले के आपको प्रक्रिया समझाएं, पहले थोड़ा ओवरव्यू ले लेते हैं

  1. राज्य में लौटे या अन्य लोगों का जिनके पास भी समग्र आईडी नहीं है,पहले नियमानुसार उनका आईडी जनरेट कराया जाएगा। इसके बाद फिर सर्वे, दस्तावेजों की जांच और पंजीय कार्य समग्र आईडी के माध्यम से किया जाएगा।
  2. अब समग्र आईडी और आधार कार्ड नंबर पोर्टल पर दर्ज करना होगा। ध्यान रहे पंजीयन केवल उन लोगों का किया जाएगा जो मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना या भवन एंव अन्य निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीयन की पात्रता रखते हैं।
  3. अब पात्र प्रवासी श्रमिकों से जानकारी प्रापत कर 3 जून 2020 के पहले पोर्टल पर अपलोड किए जाने का काम किया जाना है। इसके अलावा फॉर्म्स को रिकॉर्ड में पूरी तरह सुरक्षित रखे जाने का भी निर्देश दिया है। वंही ग्राम पंचायत के सचिव तथा नगरिय क्षेत्रों के वार्ड प्रभारी लाभार्थियों के सर्वे फॉर्म भरन में उनकी मदद करेंगे।
  4. इस पूरे कार्य को जिला कलेक्टरों द्वारा संपन्न कराया जाएगा। ग्रामीण इलाकों की जिम्मेदारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी की होगी। वंही नगरीय क्षेत्र के लिए मुख्य नगर पालिका अधिकारी तथा नगर निगम आयुक्त द्वारा अधिकृत अधिकारी होंगे।
  5. प्रवासी मजदूरों के पंजीयन की जानकारी ग्रामीण विकास विभाग को दी जाएगी। ताकि सभी आवेदकों को मनरेगा के तहत काम दिया जा सके। साथ ही खाध विभाग द्वारा पात्र आवेदकों को प्रधानमंत्री गरीब क्लयाण योजना के जरिए राशन की सुविधा भी मुहैया कराई जाएगी।

रोजगार सेतु योजना ऑनलाइन श्रमिक समग्र पंजीयन

जैसा के लेख में पहले बताया है समग्र पोर्टल पर पंजीयन अनिवार्य है, इसके बाद ही रोजगार सेतु योजना का लाभ लिया जा सकता है। आईये जानें समग्र आईडी कैसे बनेगी

  • सबसे पहले आधिकारिक समग्र आईडी पोर्टल पर जाएँ (http://samagra.gov.in/)
  • अब आपको पंजीकरण करने के लिए, परिवार पंजीकरण पेज पर जाना होगा
  • इसके लिए वेबसाइट के मुख्य पृष्ट पर “Enroll in Samagra” सेक्शन में जाकर “Register Family” लिंक पर क्लिक करें
ROjgar Setu Shramik Samagra Panjiyan
  • ऐसा करने पर पंजीकरण पेज खुलेगा, इसमें मांगी गई सारी जानकारी सही से भर दीजिये
Rojgar setu online registration form
  • अंत में रेजिस्टर एप्लीकेशन पर क्लिक करके एप्लीकेशन जमा कर दीजिये और एप्लीकेशन नंबर संभाल कर रखें

योजना सम्बंधित प्रश्नोत्तर

“Rojgar Setu” योजना की घोषणा कब हुई

26 मई को मुख्यमंत्री शिवराज चौहान जी ने इस योजना का जिक्र किया

इस योजना का क्या उद्देश्य है?

मध्यप्रदेश में रहने वाले तथा अन्य राज्यों से लौटे हुए प्रवासी मजदूरों को रोजगार के अवसर देना ही इस योजना का उद्देश्य है |

क्या इस योजना का लाभ देने के लिए दूसरे राज्यों से लौटे श्रमिकों की सूची तैयार की जा चुकी है?

27 May से सूची बनाने का कार्य प्रारम्भ हो चूका है और जल्द ही सूची तैयार हो जाएगी |

इस योजना का लाभ लेने के लिए किन बातों का ध्यान रखा जाना चाहिए?

सबसे पहले तो यह सुनिश्चित कर लें की आपने समग्र आईडी बना ली है, इसके लिए समग्र पोर्टल पर पंजीयन करना होगा। इसके अलावा आपसे आधार या अन्य जानकारी मांगी जा सकती है। अगर आप के आप कोई स्किल सर्टिफिकेट है तो वह भी जरूर साथ रखेंगे इससे आपको आपके काम के अनुरूप रोजगार मिलने में सहायता मिलेगी |

यह भी पढ़ें