राजस्थान भामाशाह पशु बीमा योजना| ऑनलाइन आवेदन |एप्लीकेशन फॉर्म

पशु बीमा योजना राजस्थान|पशु बीमा योजना|भामाशाह पशु बीमा योजना|पशुपालन बीमा योजना राजस्थान|Rajasthan Bhamashah Pashu Bima Yojana in  hindi

दोस्तों आप सभी जानते हैं हम आपको अपनी वेबसाइट पर हर सरकारी योजना की जानकारी देने की कोशिश करते हैं| दोस्तों आज हम आपके लिए एक और राजस्थान की सरकारी योजना लेकर आए हैं जिस योजना का नाम है |राजस्थान पशु बीमा योजना दोस्तों यह योजना पशुओं के लिए शुरू की गई है कि अब राजस्थान के लोगों के पास जो भी पशु है |उनका बीमा कराया जाएगा ताकि किसान ज्यादा से ज्यादा पशु रखकर अपनी आय को बढ़ा सकें |

इसलिए सरकार ने भामाशाह पशु बीमा योजना का आरंभ किया है |जो कि केवल राजस्थान के रहने वाले लोगों के लिए ही है |आज हम आपको अपने आर्टिकल में राजस्थान पशु बीमा योजना के क्या लाभ हैं तथा पशु बीमा योजना के लिए आवेदन किस प्रकार से किया जाता है ?तथा इसके लिए योग्यता क्या होनी चाहिए? हम इसकी सारी जानकारी आर्टिकल में देंगे |सारे आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें|

राजस्थान पशु बीमा योजना क्या है?

दोस्तों हम आपको बताना चाहते हैं !!!!!!राजस्थान में रहने वाले लोगों के पास जिनके पास भी पशु हैं| घर बैठे अपने पशुओं का बीमा करा सकेंगे |इस योजना के अंतर्गत पशुपालन विभाग द्वारा भामाशाह बीमा योजना के अंतर्गत पशुओं का बीमा करवाया जा रहा है |परंतु ध्यान रहे जो भी इस योजना का लाभ जाता है| पशुपालकों के पास भामाशाह कार्ड होना अनिवार्य है|

Read here: राजस्थान भामाशाह कार्ड किस प्रकार बनाए क्लिक करें

दुधारू गाय40,000
दुधारू भैंस50,000
10 भेड़ 10 बकरी 10 सूअर50,000
ऊंट ,घोड़ा, गधा ,सांड ,पाड़ा50,000

राजस्थान पशु बीमा योजना के लाभ

  • एससी, एसटी बीपीएल वर्ग के पशुपालकों को भैंस का बीमा 413 रुपए प्रीमियम जिसमें जिसमें 50 हजार का बीमा।
  • गाय का 330 की प्रीमियम राशि पर 40 हजार का बीमा होगा इसमें 70 प्रतिशत छूट शामिल है।
  • सामान्य वर्ग के पशुपालकों को बीमा की प्रीमियम राशि में 50 प्रतिशत छूट मिलेगी।
  • इन पशुपालकों को गाय के बीमा के लिए 550, भैंस के बीमा के लिए 688 रुपए जमा कराने होंगे।
  • योजना के तहत देशी, संकर नस्ल के दूध देने वाले पशु गाय, भैंस, भार ढोने वाले ऊंट, घोड़ा, गधा, सांड, पाड़ा तथा अन्य पशु बकरी, भेड़ का बीमा अनुदानित प्रीमियम दर पर किया जाएगा।
  • भेड़ का बीमा करवाने पर विभाग द्वारा एससी, एसटी एवं बीपीएल पशुपालकों को 80 प्रतिशत अनुदान एवं सामान्य वर्ग के पशुपालकों को 70 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा।
  • रोग या दुर्घटना से बीमित पशु की मृत्यु होने पर 100 प्रतिशत बीमा लाभ दिया जाएगा।
  • अनुदानित बीमा के लिए दुधारु गाय की कीमत 40 हजार, भैंस की 50 हजार भार ढोने वाले पशु (ऊंट, घोड़ा, गधा, सांड, पाडा) की अधिकतम 50 हजार रुपए रहेगी।
  • बीमा योजना में टैग से पशुओं की पहचान सुनिश्चित होने से इसमें पारदर्शिता रहेगी। 

राजस्थान पशु बीमा योजना के लिए जरूरी कागजात

  • पशु का स्वास्थ्य प्रमाण पत्र
  • पशु के कान में टैग सहित पशुपालक का फोटो
  • भामाशाह कार्ड की कॉपी
  • BPL कार्ड ,SC, ST से संबंधित दस्तावेजों की कॉपी
  • बैंक का नाम ,खाता संख्या, IFSC कोड
  • आधार कार्ड की कॉपी
  • अपने हिस्से की प्रीमियम राशि सर्विस टैक्स के साथ
  • जिस भी पशु का बीमा किया गया है यदि उसका टैग गिर जाता है या खो जाता है तो तुरंत पशु चिकित्सक अधिकारी को सूचित किया जाएगा तथा नया टैग लगवाना होगा |
  • टैग एवं फोटो की राशि बीमा कंपनी द्वारा ही दी जाएगी|

राजस्थान पशु बीमा योजना किस प्रकार से किया जाएगा

  • पशुपालकों को अपने पशुओं को बीमा करवाने के लिए संबंधित पशु चिकित्सालय में पशु बीमा के लिए सूचित करना होगा।
  • सूचना के बाद पशु चिकित्सक एवं संबंधित बीमा कंपनी अभिकर्ता पशुपालक के घर पहुंचेंगे।
  • वहां पर पशु चिकित्सक द्वारा पशु का स्वास्थ्य परीक्षण कर स्वास्थ्य प्रमाण पत्र जारी करेगा।
  • बीमा के लिए पशुपालक के पास भामाशाह कार्ड एवं बैंक में खाता होना जरूरी है।
  • पशु का बीमा करने के दौरान बीमा कंपनी द्वारा पशु के कान में टैग लगाया जाएगा।
  • पशुपालक की पशु के साथ संयुक्त फोटो ली जाएगी।
  • बाद में पशु का बीमा कर पॉलिसी जारी कर दी जाएगी।
  • पशु का बीमा होने के बाद कान में लगाया जाने वाला टैग गिर जाता है तो पशुपालक द्वारा बीमा कंपनी को सूचना दी जाएगी।
  • जिससे बीमा कंपनी पशु के नया टैग लगा सके।
  • जिस पशुपालक का भामाशाह कार्ड बना हुआ है, वह अपने 5 पशुओं का बीमा करवा सकता है।
  • प्रीमियम राशि 50 हजार रुपए है। एससी-एसटी ओर बीपीएल 70 प्रतिशत छूट है। 

राजस्थान पशु बीमा योजना किस प्रकार मिलेगा?

  • दोस्तों हम आपको बताना चाहते हैं पशु की मृत्यु हो जाने की दशा में बीमा कंपनी के कार्यालयों के प्रतिनिधि को या उनके मोबाइल नंबर पर की मृत्यु के बारे में सूचित करना होगा |
  • पशु की रात्रि में मृत्यु होने की स्थिति में बीमा कंपनी को दूसरे दिन प्रातः ही सूचित किया जाना आवश्यक होगा|
  • बीमा कंपनी द्वारा सूचना होने पर 6 घंटों की अवधि में मृत पशु का सर्वे किया जाएगा |
  •  पशु का पोस्टमार्टम किसके द्वारा जाएगा |
  • मृत पशु का पोस्टमार्टम करते समय फोटो ली जानी आवश्यक होगी|

मृत पशु की राशि का दावा किए जाने हेतु लिखित कार्य आपको करने होंगे :

  1. सबसे पहला कंपनी को मोबाइल या SMS द्वारा सूचित करना
  2. बीमा पॉलिसी की प्रति बीमा कंपनी को उपलब्ध करवाना
  3. क्लेम फार्म भरकर बीमा कंपनी को उपलब्ध करवाना
  4. मृत्यु प्रमाणपत्र
  5. पशु चिकित्सक द्वारा पोस्टमार्टम करते हुए फोटो एवं टैग , बीमा कंपनी को उपलब्ध करवाना|

 पशु की निम्न कारणों से मृत होने पर ही आपको बीमा क्लेम दिया जाएगा:

  • दुर्घटना ,बिजली ,बाढ़ ,आंधी तूफान ,भूकंप ,तूफान
  • बीमा अवधि के दौरान होने वाली बीमारी या रोग से मृत्यु |

 पशु की निम्न कारणों से मृत होने पर आपको बीमा क्लेम  नहीं दिया जाएगा:

  • दोस्तों यदि आप पशु को जानबूझकर कोई भी हानि पहुंचाते हैं तो आपको बीमा का क्लेम नहीं दिया जाएगा|
  • या फिर जानबूझकर पशु को मारा जाता है | तब भी क्लेम नहीं मिलेगा|
  • पशु की चोरी होने पर, गुप्त बिक्री होने पर भी क्लेम नहीं दिया जाएगा|

राजस्थान भामाशाह पशु बीमा ऑनलाइन आवेदन

  • दोस्तों सबसे पहले आपको यहां पर दिए गए पर क्लिक करना होगा|
  • वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद आपको भामाशाह पशु बीमा योजना का एक एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा|
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड करें|
  • इसमें आपसे जो भी जानकारी पूछी गई है उसको भरें |
  • इस प्रकार से आप ऑनलाइन घर बैठे अपने पशुओं का बीमा करवा सकते हैं|

राजस्थान पशु बीमा ऑफलाइन आवेदन

  • दोस्तों आप ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं इसके लिए आपको नजदीकी पशु चिकित्सा अधिकारी के पास जाना होगा |
  • आपको एप्लीकेशन फॉर्म दिया जाएगा|
  • पशु बीमा योजना के लिए उस एप्लीकेशन फॉर्म को भरें |
  •  अपने पशुओं का बीमा करवाएं|

राजस्थान पशु बीमा योजना के लिए हेल्पलाइन नंबर

  • टेलीफोन नंबर-0141-2731710
  • फैक्स नंबर-0141-2732566
  • मोबाइल नंबर-9001531892
  • ईमेल ID-dilipgupta@uiic.co.in

दोस्तों यदि आप राजस्थान भामाशाह पशु बीमा योजना से संबंधित कोई भी जानकारी पूछना चाहते हैं मुझे कमेंट कर सकते हैं मैं आपके प्रश्नों का जवाब जरूर दूंगी कृपया मेरे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर करना ना भूलें|

Hi, I am Vaibhav Tiwari, the man behind this blog. I am a part-time blogger and a software developer by profession. For any query, feel free to drop your message on the contact us page.