प्रधानमंत्री गरीब क्लयाण रोजगार अभियान/योजना। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म


देश में कोरोना काल में अपना काम काज खो बैठे लोगों की परेशानी अब दूर होने वाली है, केंद्र सरकार 20 जून 2020 को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना का आंरभ करने वाली है। इस योजना के जरिए उन देशभर के प्रवासी मजदूरों समेत उन सभी को रोजगार मुहैया कराया जाएगा, जो अब अपने राज्यों में लौट कर आ  गए हैं, साथ ही अन्य बेरोजगार लोगों को भी इसका लाभ दिया जाएगा। हम सभी जानते हैं कि कोरोना के समय में देश के करोड़ों लोग के हाथ से उनका काम जा चुका है, जिसके चलते वह दो वक्त की रोटी के भी मौहताज हो गए हैं। सरकार ने लोगों की   रोजगार की समस्या को खत्म करने के लिए Pradhan Mantri Garib Kalyan Rojgar Abhiyan शुरू करने का ऐलान किया है। अगर आप PM Garib Kalyan Rojgaar Yojana 2020 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी हासिल करना चाहते हैं, या आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो हमारे इस लेख पर अंत तक बने रहें।

इस योजना को पहले ग्रामीण इलाकों में शुरू किया जाएगा। योजना का उद्देश्य प्रवासी मजदूरों एंव ग्रामीण लोगों को रोजगार दिलाने का होगा, जिससे वह अब राज्यों से पलायन ना करें और अपने ही राज्य में रहकर आर्थिक स्थिति सुधार सकें। इस योजना का ऐलान 20 जून को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किया जाएगा। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में बिहार के मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री मौजूद होंगे। इसके अलावा 5 अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री और यूनियन मिनिस्टर भी इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग मे शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री गरीब क्लयाण रोजगार अभियान (योजना) क्या है

गरीब कल्याण रोजगार योजना का ऐलान प्रधानमंत्री 20 जून को करेंगे।बताया जा रहा है कि इस अभियान को कारगर बनाने के लिए 125 दिनों तक कैंपेन चलाया जाएगा। जिसकी अंतिम तारीख 22 अक्टूबर 2020 होगी। इस अभियान में सरकार 25 अलग अलग सेक्टर के कार्यो को किस तरह बढ़ाया जाए इस पर फोकस रखेगी।  इस योजना के माध्यम से सरकार का लक्ष्य प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने के अलावा ग्रामीण इलाकों में एक ऐसे इंफ्रास्ट्रक्चर को तैयार करना होगा, जिससे ग्रामीण इलाकों में ही रोजगार पैदा किए जा सकें। सूत्रों से पता चला है कि PMGKRY के लिए सरकार 50 हजार करोड़  रूपए खर्च करेगी। बिहार के खगड़िया जिले के ब्लॉक बेलदौर के गांव तेलिहार से यह अभियान शुरू किया जाएगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान में कुल 12 मंत्रालय और विभागों से जोड़ा जाएगा जिसकी सूची कुछ इस प्रकार है।

pradhan mantri garib kalyan rojgar yojana

  1. ग्रामीण विकास
  2. सड़क परिवहन एवं राजमार्ग
  3. पंचायतीराज
  4. खाने (Mines)
  5. पेयजल और स्वच्छता
  6. पर्यावरण
  7. रेलवे
  8. पेट्रोलियमऔर प्राकृतिक गैस
  9. नई और नवीकरणीय ऊर्जा
  10. सीमा सड़क
  11. दूरसंचार
  12. कृषि

इस योजना में 6 राज्यों के 116 जिलों को शामिल किया गया है।  राज्यों के नाम बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड और ओड़िशा। योजना का लाभ इन राज्यों में लौट कर आए 25 हजार मजदूरों को पंहुचाया जाएगा।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Rojgar योजना का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही इस योजना का उद्देश्य राज्यों में अधिक अधिक लोगों को रोजगार देना है। साथ ही इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों के विकास की रफ्तार को बढ़ावा दिया जाएगा, तथी ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों को रोजगार मुहैया कराए जाएंगे।

प्रधानमंत्री गरीब क्लयाण रोजगार अभियान के लाभ

  • योजना के जरिए प्रवासी मजदूरों को रोजगार प्राप्त होगा।
  • इसके माध्यम से राज्यों से होने वाले पलायन को रोका जा सकेगा।
  • ग्रामीण क्षेत्रों का विकास होगा।
  • लोगों की आर्थिक स्थिति बेहतर होगी।
  • राज्यों में बेरोजगारी दर घटेगा, तो प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोतरी होगी।

PM Garib Kalyan Rojgaar Yojana आवेदन हेतु दस्तावेज

  • आवदेक इन 6 राज्यों में से किसी एक का नागरिक होना चाहिए
  • आवेदक के पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • निवासी प्रमाण पत्र।
  • रोजगार केवल 18 साल से ऊपर की आयु के लोगों को दिया जाएगा।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Rojgar Yojana Registration Form

सरकार की तरफ से अभी इस योजना का ऐलान ही हुआ है, अभी इस पर किसी तरह का कोई कार्य शुरू नहीं हुआ है। लेकिन जल्द ही सरकार इस योजना से जुड़े सभी अपडेट सामने लाएगी।

 

प्रधानमंत्री गरीब क्लयाण रोजगार योजना से सम्बंधित प्रशनोत्तर

गरीब कल्याण रोजगार योजना का उद्देश्य क्या है?

इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों का विकास एंव प्रवासी मजदूरों को रोजगार देना है।

गरीब कल्याण रोजगार में रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाएगा?

अभी योजना का ऐलान ही किया गया है, अब तक आवेदन सम्बंधित जानकारी सरकार ने जारी नहीं की है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान से कितने लोगों को रोजगार मिलेगा?

इस योजना के माध्यम से 25 हजार मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा।

योजना की शुरूआत सबसे पहले कंहा होगी?

योजना का शुभारंभ सबसे पहले बिहार के कुछ ग्रामीण क्षेत्रों से किया जाएगा

यह भी पढ़ें>>>> केंद्र सरकार की यह योजना खास आपके लिए है