पीएम श्रमिक सेतु पोर्टल/एप। 2020 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म


कोरोना काल में प्रवासी मजदूरों की समस्या को खत्म करने के लिए अब देश के प्रधानमंत्री जी ने श्रमिक सेतु पोर्टल और मोबाइल एप लॉन्च करने का ऐलान कर दिया है। इस पोर्टल के माध्यम से मजदूर को देश के किसी भी राज्य में आसानी से काम मिल जाएगा। ज्ञात हो की कोरोन में हुए लॉकडाउन के चलते सबसे ज्यादा बेरोजगार यह प्रवासी मजदूर ही हुए थे। ना इनके पास खाने के लिए पैसा था, ना अपने राज्य लौटने के लिए। लेकिन अब इन की यह स्थिति ना बनी रही इसलिए ही मोदी जी Shramik Setu Portal And App शरु कर रही है। इस पोर्टल या एप पर जा कर व्यक्ति को केवल अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा और उसे रोजगार के अवसर मिल जाएंगे। अगर आप भी इस पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हो तो हमारे इस लेख पर अंत तक बने रहें।

श्रमिक सेतु पोर्टल पर कुशल एंव अकुशल मजदूर दोनो ही अपना रजिस्ट्रेशन करा पाएंगे। क्योंकि इसकी एप भी शुरू की जाएगी जिस लिहाज से रजिस्ट्रेशन कराना आसान हो जाएगा। इसके अलावा अगर मजदूर रजिस्ट्रेशन कराने के बाद अन्य किसी राज्य में चला जाता है तो उसे फिर से रजिस्ट्रेशन कराने की कोई जरूरत नहीं होगी, बल्कि उसे केवल अपनी लोकेशन अपडेट करनी होगी, जिसके बाद आसानी से मजदूर को उस राज्य में भी काम मिल जाएगा। जो भी प्रवासी मजदूर इस पर खुद का पंजीकरण कराते हैं उन्हे केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही किसी योजना पर ही रोज़गार दिया जाएगा।  

  श्रमिक सेतु पोर्टल का उद्देश्य

जैसे कि हम जानते ही हैं कोरोना के समय भारी संख्या में मज़दूरों को अपने अपने राज्यों में पलायन करना पड़ा था। अब अगर उन्हे वंहा रोजगार के अवसर प्रदान नहीं किए जाएंगे तो वह फिर से अपने राज्यों से पलायन करने को मजबूर हो जाएंगे। मोदी सरकार ने इसलिए ही श्रमिक सेतु पोर्टल और एप लॉन्च करने का ऐलान किया है। ताकि मजदूर देश के किसी भी हिस्से में क्यों ना हो उन्हे रोज़गार दिया जा सके। पोर्टल के माध्यम से सरकार की यह भी कोशिश होगी के मज़दूरों की आर्थिक स्थिति में सुधार आए।

इस योजना को भी देखें>>>>>प्रधानमंत्री गरीब क्लयाण रोजगार अभियान/योजना

PM Shramik Setu Portal And App के लाभ

  • पोर्टल के माध्यम से बेरोजगर मज़दूरों को रोज़गार के अवसर प्राप्त होंगे।
  • मजदूर अगर अन्य किसी राज्य में भी चला जाता है तो उसे अपना स्थिति को अपडेट करना होगा और उसे वंहा भी रोज़गार मिल जाएगा।
  • पोर्टल के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा संचालित योजनाओं पर ही मज़दूरों को रोज़गार दिया जाएगा।
  • मज़दूरों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा।
  • मज़दूरों का अलग अलग राज्यों से पलायन रोका जा सकेगा।
  • देश का बेरोजगारी दर में कमी आएगी।
  • ऐसा भी अनुमान लगाया जा रहा है कि पोर्टल पर पंजीकरण कराने वाले लोगों को केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा और पीएम श्रम योगी मान-धन योजना का लाभ भी दिया जाए। यानी मज़दूरों को पेंशन स्कीम और बीमा योजना से भी जोड़ा जा सकता है।

पीएम श्रमिक सेतु पोर्टल

प्रधानमंत्री श्रमिक सेतु पोर्टल रजिस्ट्रेशन हेतु पात्रता एंव दस्तावेज

  • पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले व्यक्ति की उम्र 18 साल से अधिक होनी अनिवार्य है।
  • आवेदक के पास उसका आधार कार्ड होना चाहिए।
  • रजिस्ट्रेशन कराने वाले व्यक्ति के पास उसका मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है।
  • अगर रजिस्ट्रेशन कराने वाले व्यक्ति के पास बैंक खाता नहीं होता वह आवेदन नहीं कर सकेगा।

 PM Shramik Setu Portal And App Online Registration Form

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा श्रम सेतु पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने के लिए अभी थोड़ा और इंतजार करने की आवश्यकता है। क्योंकि अभी मोदी जी द्वारा इस पोर्टल को लॉन्च करने का ऐलान ही किया गाय है। अभी इसे ज़मीनी स्तर पर उतारा नही गया है। लेकिन बताया जा रहा है कि सरकार इस पोर्टल और एप को जुलाई 2020 तक लॉन्च कर देगी। पोर्टल लॉन्च होने के बाद रजिस्ट्रेशन करना संभव होगा।

पीएम श्रमिक सेतु पोर्टल से सम्बंधित प्रशनोत्तर

श्रमिक सेतु पोर्टल क्या है?

यह एक रोजगार पोर्टल है, जिसके जरिए प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा।

पीएम श्रमिक सेतु पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाएगा?

श्रमिक सेतु पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन माध्यम से किया जा सकेगा।

पीएम श्रमिक सेतु पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की सबसे खास बात क्या है?

पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने के बाद अगर कोई व्यक्ति दूसरे राज्य में चला जाता है, तो उसे वंहा भी रोजगार मिल जाएगा।

श्रमिक सेतु पोर्टल के जरिए मजदूरों को क्या कोई अन्य लाभ भी मिलेंगे?

हां ऐसा कहा जा रहा है कि पोर्टल पर पंजीकरण कराने के बाद, आवेदकों को पेंशन योजना और बीमा योजना का लाभ भी दिया जाएगा।

यह भी पढ़े>>>> केंद्र सरकार की यह योजना आपके लिए है फायदेमंद