वन रैंक वन पेंशन योजना 2019|वन रैंक वन पेंशन टेबल(OROP)|One Rank One Pension Yojana in Hindi


वन रैंक वन पेंशन योजना|वन रैंक वन पेंशन योजना क्या है|वन रैंक वन पेंशन टेबल|One Rank One Pension OROP|one rank one pension table|एक रैंक एक पेंशन|1 रैंक 1 पेंशन योजना|orop अगले संशोधन

प्यारे दोस्तों आप सभी को यह जानकर बहुत ही खुशी होगी कि सरकार ने वन रैंक वन पेंशन का उद्घाटन कर दिया है इस योजना का पूरा फायदा आर्मी वालों को मिलेगा क्योंकि सरकार का मानना है आर्मी वालों को इनका पूरा फायदा मिलना चाहिए |इसका पूरा फायदा जो भी सैनिक रिटायर हुए हैं |उनको मिलेगा इसका लाभ जो भी सैनिक  2006 से पहले रिटायर हुए हैं |उनको दिया जाएगा|

2011 के रक्षा मंत्रालय के अनुमान के मुताबिक 3000 करोड़ रुपए सालाना खर्च होंगे|2011 के वित्त मंत्रालय के अनुमान के मुताबिक 1000 करोड़ रुपए सालाना खर्च होंगे|2014 के रक्षा मंत्रालय के अनुमान के मुताबिक 9300 करोड़ रुपए सालाना खर्च होंगे|  2015 में रक्षा राज्य मंत्री के अनुमान के मुताबिक 7500 से 10000 करोड़ रुपए सालाना खर्च होंगे|

एक रैंक एक पेंशन योजना

रिटायर हो चुके सैनिकों को वन रैंक वन पेंशन योजना से लाभ होगा,खासतौर पर जो सैनिक 2006 से पहले रिटायर हुए हैं|जिससे रिटायर सैनिकों को एक रैंक पर एक पेंशन राशी प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। वन रैंक वन पेंशन योजना का वास्तविक मंतलब है की एक श्रेणी के सैनिक को एक पेंशन।

वन रैंक वन पेंशन का मतलब है कि एक ही रैंक से रिटायर होने वाले अफसरों को एक जैसी ही पेंशन मिले। यानी 1980 में रिटायर हुए कर्नल को आज रिटायर हुए कर्नल के बराबर ही पेंशन दी जाए।

वन रैंक वन पेंशन योजना लागू होने से 30 लाख सैन्य कर्मियों को फायदा होगा। जो रिटायर हो चुके हैं, उन्हें एरियर भी मिलेगा। अभी लगभग 14 लाख सैनिक और अफसर सेना का हिस्सा हैं।

1 रैंक 1 पेंशन योजना लाभ क्या होंगे

  • समान रैंक समान पेंशन योजना का लाभ मिलेगा |
  • जो भी सैनिक बहुत पहले रिटायर हुए हैं और जो अब रिटायर होंगे सब को वन रैंक वन पेंशन योजना का लाभ मिलेगा|
  • वन रैंक वन पेंशन का मतलब है कि एक ही रैंक से रिटायर होने वाले अफसरों को एक जैसी ही पेंशन मिले। यानी 1990 में रिटायर हुए कर्नल को आज रिटायर हुए कर्नल के बराबर ही पेंशन दी जाए।
  • जो रिटायर हो चुके हैं, उन्हें एरियर भी मिलेगा। अभी लगभग 14 लाख सैनिक और अफसर सेना का हिस्सा हैं।
  • रिटायर हो चुके सैनिकों को वन रैंक वन पेंशन योजना से लाभ होगा,खासतौर पर जो सैनिक 2006 से पहले रिटायर हुए हैं|
  • रिटायर सैनिकों को एक रैंक पर एक पेंशन राशी प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। वन रैंक वन पेंशन योजना का वास्तविक मंतलब है की एक श्रेणी के सैनिक को एक पेंशन।

वन रैंक वन पेंशन योजना उद्देश्य

  • योजना की मांग 2013 में की गयी तथा 1 जुलाई 2014 से योजना प्रभावी है।
  • अधिकारीयों को आधार वर्ष के रूप में 1 अप्रैल 2014 और 2015 में वन रैंक वन पेंशन योजना की मान्यता मिली।
  • वन रैंक वन पेंशन योजना के तहत लगभग तीन लाख सैनिकों को लाभ होगा।
  • बकाया राशी एक ही बार में मिल जाएगी।
  • चार छमाही किश्तों और युद्ध विधवाओं सहित सभी विधवाओं को दी जाएगी।
  • पहली किश्त का भुगतान कर दिया गया है और दूसरी किश्त का भुगतान बाकि है।
  • योजना पर अनुमानित लागत 8000 से 10000 करोड़ रूपये है।
  • सरकार ने पहले ही कहा है की जो सैनिक स्वेच्छा से रिटायर होंगे उन्हें OROP के तहत पेंशन नहीं मिलेगी।

वन रैंक वन पेंशन टेबल|OROP table chart 2019

दोस्तों अब हम आपको वन रैंक वन पेंशन ओ आर ओ पी टेबल के बारे में बताएंगे बाकी आपको वन रैंक वन पेंशन योजना टेबल की पूरी जानकारी मिल सके और आपको किसी भी परेशानी का सामना ना करना पड़े हम आपको इसका ओ आर ओ पी टेबल नीचे बता रहे हैं कृपया इस को ध्यान से पढ़ें|

  • वर्तमान दर पर ओआरओपी के कार्यान्‍वयन खाते में वार्षिक आवर्ती वित्‍तीय अनुमान लगभग 7,500 करोड़ रूपए होगा।
  • 1 जुलाई, 2014 से 31 दिसंबर, 2015 तक बकाया राशि लगभग 10,900 करोड़ रूपए होगी।
  • जेसीओ/ओआर को ओआरओपी के खाते पर कुल खर्च का 86 प्रतिशत लाभ मिलेगा।
  • ओआरओपी के अंतर्गत बकाया राशि का भुगतान और पेंशन में संशोधन पेंशन संवितरण प्राधिकारियों द्वारा चार किश्‍तों में प्रदान की जाएगी, लेकिन पारिवारिक पेंशनरों और वीरता पुरस्‍कार पाने वाले पेंशनरों को बकाया राशि एक किश्‍त में ही दी जाएगी।
  • रक्षा बजट में पेंशन के लिए कुल बढ़ोतरी का अनुमान लगाया गया है। यह 54,000 करोड़ रूपए (बजट अनुमान 2015-16) से बढ़कर करीब 65,000 करोड़ रूपए (प्रस्‍तावित बजट अनुमान 2016-17) होने का अनुमान है। इस प्रकार रक्षा पेंशन परिव्‍यय में करीब 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी।

 

1 rank 1 pension OROP table DOWNLOAD HERE

1. For revision of pension, the qualifying service mentioned in first column shall be taken as actual qualifying service rendered for which pension had been sanctioned.
2. The rates of pension above the term of engagements are only in respect of those who were retained in the service beyond their term of engagement during emergency peiords.
3. To cover invalid our cases, rates of pension has been indicated from 1/2 years of service for all ranks though such cases may not ocur in reality in higher ranks.
4. The Service Element of Disability/Liberilzed Disability/War Injuiry Pension and Invalid pension shall also be revised by the rates mentioned in the table.
5. Pension of DSC personnel drawing their first pension from DSC irrespective of Clerical / Other duty group, shall also be revised from this table by allowing the rates of Group ‘Y’ in relevant ranks.
6. Pension of JCO/ORs granted upgradation under ACP/MACP scheme, shall be revised with reference to the rank for which ACP/MACP had been granted.

 

वन रैंक वन पेंशन योजना ऑनलाइन जाने के लिए यहां पर क्लिक करें|

दोस्तों यदि आप वन रैंक वन पेंशन योजना से संबंधित कोई भी प्रश्न पूछना चाहते हैं तो कमेंट करें मैं आपके प्रश्नों का जवाब जरूर दूंगी कृपया मेरे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर करना ना भूले

Print Friendly, PDF & Email

39 thoughts on “वन रैंक वन पेंशन योजना 2019|वन रैंक वन पेंशन टेबल(OROP)|One Rank One Pension Yojana in Hindi

  1. कमेंट करने से पहले ध्यान दें!

    दोस्तों,अगर आप इस ब्लॉग के किसी भी आर्टिकल पर कमेंट करते हैं तो कुछ बातों का विशेष ध्यान रखें । अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर इत्यादि पर्सनल जानकारी कमेंट में न डालें । हालाँकि हमारी कोशिश रहती है ऐसा कोई कमेंट पब्लिश न हो पाए फिर भी पाठकों से हमारा आग्रह है के इस बात का ध्यान रखें ।

    आपके द्वारा दी गई ऐसी जानकारी का इस्तेमाल कई शरारती तत्व अपने फायदे के लिए कर सकते हैं । इसीलिए इस वेबसाइट या किसी और वेबसाइट पर भी किसी भी तरीके द्वारा अपनी महत्वपूर्ण जानकारी साझा न करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *