क्या है एमएसएमई। Micro Small & Medium Enterprises की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया


देश में कोरोना के समय केंद्र सरकार द्वारा 20लाख करोड़ रूपए के पैकेज के आने के बाद से ही बहुत सी चीजे प्रसिद्ध हुई हैं, आत्मनिर्भर भारत, लोकल के लिए वोकल, और MSME सेक्टर। बाकि दोनों तो लोग समझ गए कि यह क्या हैं, लेकिन MSME क्या है, यह अब तक नहीं समझ पाए और व्यापारी भी यह सोच रहे हैं कि क्या हमारा व्यवसाय एमएसएमई सेक्टर में ही आता है,  इसके लिए रजिस्ट्रेशन कैसे होता है। ऐसे ही ढ़ेरों सवालों के जवाब आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से देंगे। अगर आप भी खुद का व्यापार करते हैं या करना चाहते हैं और एमएमएमई में अपना रजिस्ट्रेश कराना चाहते हैं, या इससे जुड़े फायदे एंव नुकसान के बारे में जानना चाहते हैं, तो इस लेख पर बने रहिए।

देश दुनिया में कई तरह उद्योग स्थापित हैं कुछ बहुत बड़े बड़े उद्योग हैं, तो कुछ छोटे और कुछ मध्य वर्ग के  ऐसे में बड़े उद्योग को चलाने के लिए एक बहुत बड़े सैटअप के साथ साथ अधिक पूंजी की आवश्यकता होती है। वंही छोटे और मध्य वर्ग के उद्योग को चलाने के लिए कम पूंजी और छोटे सैट अप में काम होने लगता है। देश के अंदर इन छोटे उद्योगो को ही एमएएमआई की श्रेणी में रखा जाता है।

क्या है एमएसएमई (MSME)

Micro Small & Medium Enterprises सूक्ष्म, लघु एंव मध्यम उद्यम को की शॉर्ट फॉर्म ही एमएसएमई (MSME) है। देश की आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने में इन लघु एंव मध्यम उद्योगो की एक अहम भूमिका है, इसलिए सरकार की तरफ से इन उद्योगों को आगे बढ़ाने के लिए अक्सर कई तरह की योजनाएं चलाई जाती है। हाल ही में 20 लाख करोड़ के पैकेज में भी एमएसएमई सेक्टर्स को बहुत से लाभ दिए गए हैं, जिसके जरिए लोग अपना कारोबार बढ़ा सकते हैं। आ्रत्मनिर्भर भारत मिशन के तहत इस सेक्टर को बेहद कम दरो और आसान शर्तों पर लोन दिए जाने का फैसला लिया गया है। लेकिन इसके लिए आपको अपने उद्योग का एमएसएमई में रजिस्ट्रेशन कराना होगा। रजिस्ट्रेशन कराने से ना केवले लोन आसानी से मिलेगा, बल्कि इसके और भी बहुत से फायदें होंगे।

MSME कितने तरहे के होते हैं

  • एमएसमई में दो तरह के उद्यम होते हैं
  • पहला मैनुफैक्चरिंग उद्योग जिसमे नई वस्तुओं के निर्माण का काम किया जाता है। 
  • दूसरा सेवा क्षेत्र होता है, इसमें सभी तरह की सेवाओं मुहैया कराने का काम किया जाता है, जैसे लोकल इंटरेनेट सेवा, या लोकल केबल ऑपरेटर सेवा 

एमएसमई में रजिस्ट्रेशन के फायदे

  • MSME में रजिस्ट्रेशन के जरिए आपको व्यवसाय करने की स्वतंत्रता प्राप्त होती है। जिसकी वजह से आपके व्यवसाय में ग्रोथ हासिल करना आसान हो जाता है।
  • इसमें रजिस्ट्रेशन कराने से आपका बिजनेस सरकार के पास रजिस्टर्ड हो जाता है। ऐसे में आपको लोन की सुविधा आासनी से मिल जाती है। इसके अलावा सरकार द्वारा चलाई जा रही कई योजनाओं का लाभ भी प्राप्त होता है।
  • रजिस्ट्रेशन कराने से आपको बिजली बिल और टैक्स में अधिक छूट मिलती है।
  • बिजनेस अगर शुरूआती सालों में है तो इसे जमाने के लिए कई तरह की अतिरिक्त छूट दी जाती हैं।
  • देश की सरकारे अक्सर कई टेंडर निकालती हैं जो केवल MSME सेक्टर के लिए ही होते है। रजिस्ट्रेशन कराने से इन टेंडरों के लिए भी आवेदन किया जा सकता है।

MSME में रजिस्ट्रेशन हेतु दस्तावेज

  • आवेदन करने वाले व्यक्ति का पैन कार्ड
  • पहचान पत्र, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस की फोटो कॉपी देनी अनिवार्य होगी।
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक अगर किराए की जमीन पर बिजनेस कर रहा है तो रेंट एग्रीमेंट की कॉपी और अगर खुद की जमीन पर कारोबार कर रहा है तो जमीन के कागजात की कॉपी।
  • आवेदक का शपथ प्रमाण पत्र और एनओसी
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति को दो गवाहों की भी जरूरत पड़ेगी।

Micro Small & Medium Enterprises, Online Registration Form

  1. एमएसएमई में रजिस्ट्रेशन कराने के लिए सबसे पहले आपको इससे जुड़ी वेबसाइट पर जाना होगा, जिसका लिंक यह है http://udyogaadhaar.gov.in/UA/UAM_Registration.aspx
  2. लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने फॉर्म खुल जाएग जंहा आपको दो विक्लप दिखाई देंगे, यंहा आपको अपना आधार नंबर और अपना नाम डालना होगा। इसके बाद ओटीपी जनरेट करने के विक्लप पर क्लिक करन होगा। MSME ONLINE REGISTRATION
  3. अब आपके आधार कार्ड के नंबर पर ओटीपी आएगा। इसे आपको अपने दर्ज करना होगा।
  4. इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जंहा आपको अपनी डिटेल डालनी होगी। 
  5. अब आप बस फॉर्म का प्रिंट निकाल कर रख लें। इस तरह आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

MSME से संबंधित प्रशनोत्तर

[sc_fs_multi_faq headline-0=”h5″ question-0=”MSME क्या है?” answer-0=”Micro Small & Medium Enterprises ” image-0=”” headline-1=”h5″ question-1=”एमएसएमई में कितने प्रकार के होते है” answer-1=”MSME दो प्रकार के होते हैं। इसमें पहला मैन्युफैक्चरिंग का होता है और दूसरा सेवा क्षेत्र का” image-1=”” headline-2=”h5″ question-2=”एमएसएमई में रजिस्टर्ड होने से क्या लोन लेने में आसानी होती है?” answer-2=”हां, MSME में रजिस्टर्ड कारोबार को आसानी से लोन मिल जाता है।” image-2=”” headline-3=”h5″ question-3=”MSME में क्या देश के किसी भी राज्य के लोग रजिस्टर्ड कर सकते हैं?” answer-3=”हां, एमएसएमई में किसी भी राज्य के लोग अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।” image-3=”” count=”4″ html=”true” css_class=””]

यह भी पढ़ें- अपना पुराना खाता जन धन खाते में बदलें