Link Aadhaar with Voter ID – वोटर आईडी को आधार कार्ड से कैसे जोड़े, Online Registration प्रक्रिया 2022

आईये जानें Voter ID Aadhaar Link कैसे करते हैं – वोटर आईडी कार्ड और आधार कार्ड को ऑनलाइन लिंक करने की प्रक्रिया, Online Registration

भारत सरकार वर्ष दर वर्ष देश में भ्रष्टाचार, जालसाजी और अन्य धोखाधड़ी को रोकने के लिए विभिन्न प्रकार के नए नियम लागू कर रही है जो कि देश वासियों के लिए एक सुविधाजनक और देश को बेहतर बनाने के लिए आवश्यक कदम है। इसी तारतम्य में भारत सरकार वोटर आईडी और आधार कार्ड को लिंक करने (Link Voter ID with Aadhaar) या जोड़ने के लिए कानून एक नया कानून देश में लेकर आई है। हालांकि यह प्रक्रिया अभी स्वैच्छिक है और वर्तमान स्थिति में देशवासियों को इसके लिए बाध्य नहीं किया गया है। परंतु वोटर आईडी, आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि से जुड़े धोखाधड़ी के मामलों को रोकने के लिए यह एक बेहतर निर्णय है।

लोकसभा में आधार कार्ड से वोटर आईडी कार्ड को लिंक करने का बिल इस महीने पेश किया गया है। इस निर्वाचन कानून संशोधन विधेयक, 2021 को कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने पेश किया है। इस बिल के जरिए केंद्र सरकार जनप्रतिनिधित्व कानून, 1950 में संशोधन करना चाहती है। अगर बिल संसद में पारित हो जाता है तो नए कानून के तहत मतदाता सूची तैयार करने वाले अधिकारियों को यह अधिकार मिलेगा कि वो वोटर लिस्ट में नाम शामिल कराने वाले लोगों से आधार कार्ड भी मांग सकेंगे। अगर ये बिल पास हो जाता है तो आधार कार्ड से वोटर आईडी को जोड़ने के प्रावधान को मंजूरी मिल जाएगी। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बैठक में चुनावी सुधारों पर विधेयक को मंजूरी दे दी है। बता दें कि बिल में प्रावधान किया गया है कि आधार नंबर देना बिल्कुल भी अनिवार्य नहीं किया जाएगा। अगर कोई व्यक्ति आधार नंबर अपने आवेदन के साथ नहीं देता है तो उसकी एप्लिकेशन खारिज नहीं की जाएगी।

Contents

How to Link Voter ID with Aadhaar Card

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चुनावी सुधारों पर एक विधेयक को मंजूरी दी है, जिसमें स्वैच्छिक आधार पर मतदाता पहचान पत्र को आधार से जोड़ने के लिए एक से अधिक नामांकन को समाप्त करना शामिल है। उदाहरण के तौर पर, यदि किसी शख्स का उसके गांव की वोटर लिस्ट में नाम है और वह लंबे समय से शहर में रह रहा है और उसने शहर तथा गांव दोनों जगह नाम अंकित करवा लिया है और दोनों ही स्थानों पर दे रहा है उस स्थिति में आधार से लिंक होते ही केवल एक वोटर का नाम एक ही जगह की वोटर लिस्ट में शामिल हो सकेगा। अब वह व्यक्ति केवल एक जगह ही वोट कर पाएगा।

बिल के मुताबिक सर्विस वोटर्स के लिए चुनावी कानून को भी जेंडर न्यूट्रल बनाया जाएगा। आने वाले विधानसभा चुनाव 2022 से पहले केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चुनावी सुधारों पर एक विधेयक को मंजूरी प्रदान की है।

जिन लोगों की आयु 18 वर्ष से ज्यादा है और वह नया वोटर आईडी कार्ड बनवा रहे हैं तो उनके पास पहले से ही यह विकल्प मौजूद है कि वह अपना वोटर आईडी कार्ड बनवाते हुए अपने आधार कार्ड की अपडेट उसमें जोड़ दे। ताकि आपका आधार कार्ड और वोटर कार्ड शुरुआत में ही लिंक हो सके। इसके बाद आपको लिंक करने का कोई प्रोसेस नहीं करना पड़ेगा। कभी ना कभी यह भी सरकार के द्वारा अनिवार्य कर दी जाएगी कि आधार कार्ड और वोटर कार्ड का लिंक करना जरूरी है। जिन लोगों के पहले से वोटर आईडी कार्ड बन गए है। और वह आधार कार्ड से लिंक करना चाहते हैं तो गवर्नमेंट की वेबसाइट पर जाकर अपने आधार कार्ड को वोटर आईडी कार्ड से लिंक कर सकते हैं।

हालांकि विपक्ष की सरकार इस नियम के विरोध में अपना पक्ष रख रही है। और विपक्षियों द्वारा देश में यह भ्रांति फैलाई जा रही है कि वोटर कार्ड नंबर और आधार नंबर लिंक करने से नागरिको की निजता में दिक्कत होगी लेकिन यह कानून केवल फर्जी आधार कार्ड और वोटर कार्ड और उनके दुरूपयोग पर प्रतिबंध लगाने के उद्देश्य से बनाया गया है।

अनिवार्य नहीं है वोटर आईडी को आधार नंबर से लिंक करना

आधार को वोटर कार्ड से लिंक करना अनिवार्य नहीं है बल्कि यह नागरिकों का अपना स्वैछिक निर्णय रहेगा। बता दें कि यह 2015 से चुनाव आयोग की मांग थी कि आधार कार्ड और वोटर कार्ड को लिंक किया जाए। चुनाव आयोग ने आधार कार्ड को मतदाता पहचान संख्या से जोड़ने के लिए राष्ट्रीय चुनाव कानून शुद्धिकरण और प्रमाणीकरण कार्यक्रम शुरू किया था। इसने कहा कि लिंकिंग से एक व्यक्ति के नाम पर कई नामांकन समाप्त हो जाएंगे। हालांकि उस वक्त इस पर काम नहीं किया गया था क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आधार का उपयोग वैकल्पिक रहेगा। इसके बाद चुनाव आयोग ने अपने प्रस्ताव में संशोधन किया और कहा कि लिंकिंग वैकल्पिक होगी।

कैसे करें आधार कार्ड और वोटर आईडी को लिंक – Online Aadhaar Voter ID Linking, Registration Form 2022

देश के नागरिक वोटर पोर्टल पर लाॅगइन करके, SMS या काॅल के माध्यम से या निर्वाचन कार्यालय जाकर भी अपने आधार को मतदाता पहचान पत्र से जोड़ सकते है।

पोर्टल पर पंजीकरण करने की प्रकिया

  • पंजीकरण करने के लिए सबसे पहले पोर्टल पर जाए और Create Account या अकाउंट बनाए आप्शन पर क्लिक करे
Link Aadhaar with Voter ID - वोटर आईडी को आधार कार्ड से कैसे जोड़े, Online Registration प्रक्रिया 2022
  • अब अगले पृष्ठ पर अपना मोबाइल नंबर या मेल आईडी डालकर सेंड ओटीपी पर क्लिक करे और आगे बढ़े
Link Aadhaar with Voter ID - वोटर आईडी को आधार कार्ड से कैसे जोड़े, Online Registration प्रक्रिया 2022
  • अब आए हुए OTP या वेरिफिकेशन कोड को दर्ज करे
Link Aadhaar with Voter ID - वोटर आईडी को आधार कार्ड से कैसे जोड़े, Online Registration प्रक्रिया 2022
  • अब अपना नया पासवर्ड बनाए और Create Account या अकाउंट बनाए आप्शन पर क्लिक करे
Link Aadhaar with Voter ID - वोटर आईडी को आधार कार्ड से कैसे जोड़े, Online Registration प्रक्रिया 2022
  • इस प्रकार आपका अकाउंट पोर्टल पर बनकर तैयार हो जाएगा
Link Aadhaar with Voter ID - वोटर आईडी को आधार कार्ड से कैसे जोड़े, Online Registration प्रक्रिया 2022
  • अब अपनी जानकारी डालकर सबमिट ऑप्शन पर क्लिक करे
Link Aadhaar with Voter ID - वोटर आईडी को आधार कार्ड से कैसे जोड़े, Online Registration प्रक्रिया 2022

अब आप अन्य सुविधाओ का लाभ ले सकते है।

Online Voter ID & Aadhaar (EPIC) Seeding Direct Link करने के अलग अलग तरीके

निर्वाचन आयोग द्वारा कई तरह से वोटर आईडी और आधार को जोड़ने की सुविधा दी गई है। आईये जानते हैं किन किन तरीकों से आप यह कर सकते हैं

वोटर पोर्टल के माध्यम से आधार को मतदाता पहचान पत्र से लिंक करने की प्रकिया:

  • सबसे पहले राष्ट्रीय अधिकारीक पोर्टल पर जाएं या नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें https://voterportal.eci.gov.in/
  • इसके बाद आपको अपना मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, वोटर कार्ड का नंबर और पासवर्ड डालकर लॉगिन करना होगा।
  • अब नए पेज पृष्ठ पर आपको अपना राज्य, जिला और निजी जानकारी जैसे- नाम, डेट ऑफ बर्थ, पिता या पति का नाम आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद सर्च बटन पर क्लिक करें। आपके द्वारा दर्ज का गई जानकारी सही रही, तो आपकी सारी डिटेल्स स्क्रीन पर आ जाएगी।
  • अब आपको स्क्रीन की बाईं ओर फीड आधार कार्ड नंबर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको आधार कार्ड का नंबर, मतदाता पहचान संख्या आदि भरना होगा।
  • लास्ट में सभी जानकारियों को ठीक से पढ़ लें और सबमिट कर दें।
  • इस पूरी प्रकिया के बाद आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें

आधार को मोबाइल नंबर से कैसे लिंक करें

PVC Aadhaar Card Apply

UIDAI Aadhaar Card Download

Jan Aadhaar Download

Aadhaar Appointment Booking 

Sarkari Yojana 2022

काॅल के द्वारा आधार को वोटर आईडी कार्ड से लिंक करने की प्रकिया (Helpline Number)

  • आधार को अपने वोटर आईडी से जोड़ने के लिए आप कॉल सेंटर पर भी कॉल कर सकते हैं।
  • कॉल सेंटर पर आप सुबह 10:00 से शाम 5:00 के बीच 1950 नंबर पर कॉल कर सकते हैं।
  • लिंक करने के लिए अपना वोटर आईडी कार्ड नंबर और आधार नंबर साझा करें।

SMS के द्वारा आधार को वोटर आईडी कार्ड से लिंक करने की प्रकिया:

SMS के द्वारा आधार को वोटर आईडी कार्ड से लिंक करने के लिए अपने मोबाइल नंबर से निम्नलिखित फार्मेट में 166 या 51969 पर SMS करे

<वोटर आईडी नंबर> <आधार नंबर >

बूथ स्तर के अधिकारियों से संपर्क कर आधार को मतदाता पहचान पत्र से लिंक करने की प्रकिया:

  • अपने क्षेत्र के निर्वाचन कार्यालय के ब्लाक स्तर अधिकारी या BLO(Block Level Officer) को एक आवेदन पत्र प्रस्तुत करें।
  • अधिकारी आवेदन की जांच करेगा और आगे के सत्यापन के लिए अधिकारी या उसके प्रतिनिधि अपनी जांच पूरी करेंगे इसके बाद सत्यापन की प्रक्रिया पूरी होगी। एक बार सत्यापन हो जाने के बाद इसे रिकॉर्ड में दिखाया जाएगा।

जरुरी


सम्बंधित प्रश्नोत्तर

क्या वोटर आईडी और आधार को लिंक करना सभी के लिए अनिवार्य है?

जी नहीं, हालांकि ये अनिवार्य नहीं है फिर भी सरकार की पहल का हमें सम्मान करना चाहिए और Aadhaar से Voter ID Link करना चाहिए

क्या यह आधार व् वोटर कार्ड लिंकिंग प्रक्रिया ऑनलाइन ही होगी?

जी नहीं केवल ऑनलाइन ही नहीं, अन्य कई माध्यमों से भी आप ये जुड़ाव कर सकते हैं|

प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए ऑनलाइन सुविधा कौन से पोर्टल पर उपलब्ध है?

ECI Voter portal पर मौजूद सुविधा का इस्तेमाल करें |