झारखण्ड किसान कर्ज माफी योजना 2021 | Jharkhand Krishi Rin (Loan Waiver) Updates, List

आज देश के किसानों के लिए केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकार द्वारा अलग अलग योजनाएं बनाई जा रही हैं। लेकिन योजनाओ का लाभ उन तक इसलिए नहीं पहुंच पाता क्योंकि वह योजना की पूरी प्रक्रिया को ही नहीं समझते या फिर उन तक जानकारी सही से पहुंचाई नहीं जाती | आज बात कर रहे हैं एक ऐसी योजना की जो झारखण्ड के किसानों के लिए राहत की सांस की तरह बन के उभरेगी |

झारखण्ड सरकार द्वारा 5 मार्च 2021 को बजट घोषित किया गया और इसमें किसानों के लिए एक नई योजना का ऐलान किया गया है, जिसके तहत किसानों को बड़ी मात्रा में कर्ज से राहत मिलेगी। झारखण्ड सरकार द्वारा पेश की गई इस योजना का नाम है कृषि ऋण माफी योजना 2021। इसे Jharkhand Kisan Karj Mafi Yojana के नाम से भी जाना जा रहा है |

झारखण्ड सरकार ने इस योजना के लिए 2000 करोड़ रूपए का बजट बनाया है।कृषि ऋण माफी योजना का लाभ छोटे किसानों को मिलेगा और अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो हम आपको इस योजना से जुड़ी पूरी प्रक्रिया समझाएंगे इसके लिए आप हमारे साथ अंत तक बने रहें।

READ
Jharkhand Corona Sahayata App | बाहर फंसे निवासियों को मिलेंगे 2000 ₹, Download App apk, Online Registration,Form

झारखण्ड कृषि ऋण माफी योजना | Jharkhand Kisan Karj Mafi 2021

Jharkhand Kisan Karj Mafi योजना के लिए छोटे और सीमांत किसानों को चुना जाएगा। कृषि ऋण योजना के अंतर्गत किसी भी किसान का कर्ज पूरी तरह माफ नही किया जाएगा बल्कि किसानों के कुछ कर्ज की रकम का भुगतान सरकार करेगी ताकी किसानों पर किसी तरह का कोई बोझ न पड़े। उदाहरण के तौर पर अगर किसी किसान के ऊपर 2 लाख रूपए का कर्ज है तो उसके 1.50 लाख रूपए का भुगतान सरकार करेगी, बची हुई रकम किसानो को खुद ही चुकानी होगी। 2021-2021 का कुल बजट 80000 करोड़ रूपए रहा उसमें से बजट का एक बड़ा भाग इस योजना पर खर्च किया जाएगा।

कृषि कर्ज माफी योजना का उद्देश्य

Jharkhand Kisan Karj Mafi योजना का उद्देश्य बिलकुल साफ दिखाई दे रहा है। इस योजना से छोटे व सीमांत किसानों को तो लाभ होगा ही। साथ ही उन बैंकों को भी लाभ होगा जिनका पैसा किसान कर्ज के तौर पर लेते तो हैं लेकिन चुकाने में सक्षम नहीं हो पाते। कृषि कर्ज माफी की इस मुहिम से किसान आसानी से अपना बचा हुआ कर्ज चुका देंगे और खेती में बने रहेंगे। वंही इस योजना से बैंकों के पास पैसा वापस आएगा और वह अन्य किसानों को भी लोने देने में सक्षम होंगे। इस योजना में किन दस्तावेजों की जूरूरत है यह आप नीचे देख सकते हैं।

योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक से उसका आधार कार्ड, बैंक अकाउंट (पासबुक), मोबाइल नंबर, निवास प्रमाण पत्र और पासपोर्ट साइज फोटो मांगी जा सकती है |

READ
झारखंड शहीद ग्राम विकास योजना|Jharkhand Shaheed Gram Vikas Yojana in Hindi

झारखण्ड कृषि कर्ज माफी योजना आवेदन प्रक्रिया | How to Apply, Form

आपको बता दें कि हाल ही में इस योजना का ऐलान किया गया है, इसे लागू होने में अभी थोड़ा समय लगेगा। आवेदन प्रक्रिया सम्बंधित जानकारी अभी साफ़ नहीं है। हो सकता है सरकारी रिकार्ड्स के मुताबिक सभी ऋण लेने वाले किसानों का कर्ज माफ़ हो जाये या फिर किसानों को ऑनलाइन आवेदन करने और सम्बंधित दस्तावेज जमा करने के लिए भी कहा जा सकता है|

इसके अलावा झाऱखंड सरकार ने अब तक इस योजना से जुड़ी पूरी जानकारी साझा नहीं की है। हालांकि यह जरूर बताया जा रहा है कि जिन भी किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा उन्हे सरकार की तरफ से एक प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा, एंव एक लिस्ट भी जारी की जाएगाी जिसमें उन किसानों के नाम होंगे जिन्हे इस योजना का लाभ मिलेगा।

Jharkhand Kisan Karj Mafi List 2021 | कृषि कर्ज माफ़ी योजना सूची ऑनलाइन कैसे देखें

इस योजना में जो भी किसान लिस्ट में अपना नाम देखना चाहते हैं उन्हे इसकी आधिकारिक पोर्टल पर सूची अपलोड होने का इंतज़ार करना होगा | इसके बाद ही लाभार्थियों के नाम लिस्ट जारी की जाएगी।

अधिक जानकारी के लिए आप झारखण्ड एग्रीकल्चर पोर्टल का रुख करें |

आप सभी से आग्रह है के के झारखण्ड किसान कर्ज माफ़ी योजना के ताज़ा जानकारी के लिए इस पेज को समय समय पर चेक करते रहिये | सारी नई जानकारी यहाँ अपडेट कर दी जाएगी |

सम्बंधित प्रश्न और उत्तर

क्या झारखण्ड कृषि ऋण माफी योजना में किसानो को पूरा कर्ज माफ कर दिया जाएगा

नहीं | कुल कर्ज का कुछ हिस्सा सरकार द्वारा दिया जायेगा जिससे किसानों को फायदा मिलेगा |

READ
झारखण्ड मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना | Health insurance for jharkhand In Hindi

इस योजना के लिए इस बार के बजट में कितनी राशि आवंटित की गई है?

कुल बजट में से इस योजना के लिए 2 हजार करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई है |

इस स्कीम का लाभ कौन से किसानो को मिलेगा?

झारखण्ड के रहने वाले लघु और सीमान्त किसानों को ही इस योजना का लाभ मिलेगा|

यह भी पढ़ें :