क्या है इस लेख में [hide]
1 झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार) योजना का उद्देश्य

कोरोना काल में मजदूर वर्ग को सबसे ज्यादा भुखमरी और बेरजगारी से जूझना पड़ा है वक्त इतना खराब हो गया था कि यह मजदूर अपने अपने राज्यों में लौटने के लिए मजबूर हो गए थे। जिसके बाद कई राज्यों इनके काम काज की व्यवस्था शुरू कर दी है। इन्ही में एक नाम जुड़ गया है अब झारखंड राज्य का। झारखंड के मुख्यमंत्री ने अपने राज्यों में लौट कर वापिस आए लोगो के लिए 

मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार) योजना की शुरूआत की है। इस योजना के तहत शहरी अकुशल श्रमिकों को झारखंड सरकार रोजगार देगी। अगर सरकार रोजगार नही दे पाई तो उन्हे बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। इस योजना के तहत मजदूरों को महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना की तरह ही कम से कम 100 दिन के लिए काम काज मुहैया कराया जाएगा। अगर आप भी Jharkhand Mukhya Mantri Shramik (Shahri Rozgar Manjuri For Kamgar) Yojana का में अपना रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हों या योजना से सम्बंधित किसी तरह की कोई जानकारी हासिल करना चाहते हैं। तो हमारे इस लेख पर अंत तक बने रहें।

हम सभी जानते हैं कि देश में कोरोना की वजह से लॉकडाउन कर दिया गया था, जिसके बाद काम काज ना होने की स्थिति में प्रवासी मजदूर अपने अपने राज्यों को लौटने के लिए मजबूर हो गए थे। अब इन्हे अपने राज्यों में ही काम मिल पाए इसके लिए ही झाऱखंड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से अन्य राज्यों से लौटकर आए कुशल और अकुशल मजदूरों को 100 दिन के लिए रोजगार दिया जाएगा। इसके लिए उन्हे एक रोजगार कार्ड दिया जाएगा जो 100 दिन तक मान्य होगा। वंही सरकार की तरफ से यह आशवाशन भी दिया गया है कि अगर किसी व्यक्ति को सरकार रोजगार नहीं दिला पाती तो सरकरा उसे बेरोजगारी भत्ता देगी।

झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार)  योजना का उद्देश्य

कोरोना के कारण झारखंड राज्य में लौट कर आए शहरी मजदुरों की  आर्थिक समस्या खत्म हो सकें और वह रोजगार की तलाश में अब कंही और ना जाएं, इसके लिए ही झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार)  योजना की शुरूआत की गई है। योजना का मुख्य उद्देश्य लौट कर आए हर व्यक्ति को कामकाज मुहैया कराना होगा, ताकि उन्हे अपने परिवार के भरण पोषण में किसी तरह की कोई दिक्कत ना आए। योजना के जरिए राज्य से होने वाले पलायन को रोकना भी एक मुख्य उद्देश्य है।

यह भी पढ़े- झारखंड किसान कर्ज माफी योजना

Jharkhand Mukhya Mantri Shramik (Shahri Rozgar Manjuri For Kamgar) Yojana में मिलने वाली सुविधाएं

मजदूरों को कार्य स्थल पर काम करने में किसी तरह की दिक्क्त ना आए इसके लिए कुछ जरूरी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी, जिनमें पीने का पानी, फर्स्ट एड बॉक्स आदि शामिल होंगे। इसके अलावा अगर कोई महिला अपने बच्चों को घर पर अकेले बच्चों को नहीं छोड़ सकती तो उसके बच्चों को रखने का भी इंतजाम किया जाएगा, ताकि वह बिना किसी चिंता के काम कर सकें।

Benefits Of Jharkhand Mukhya Mantri Shramik (Shahri Rozgar Manjuri For Kamgar) Yojana

  • योजना के माध्यम से झारखंड में लौटे प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा।
  • इसमें कुशल और अकुशल दोनो ही तरह के मजदूरों को रोजगार के बराबर अवसर प्रदान किए जाएंगे।
  • 100 दिनके लिए कम से कम रोजगार दिया जाएगा।
  • आवेदकों को रोजगार कार्ड दिया जाएगा जिमसे वह क्या काम करेंगे और कब तक कार्यरत रहेंगे यह जानकारी लिखी होगी।
  • योजना के माध्यम से अगर किसी व्यक्ति को 15 दिन के भीतर काम नहीं मिलता तो उसे बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। यह बेरोजगारी भत्ता पहले महीने न्यूनतम मजदूरी का एक चौथाई होगा। दूसरे महीने भी अगर रोजगार नहीं मिलता तो न्यूनतम मजदूरी से आधा भत्ता दिया जाएगा, वंही तीसरे महीने रोजगार ना मिलने पर पूरी न्यूनतम मजदूरी के बाराबर भत्ता दिया जाएगा।
  • योजना का लाभ 18 साल से बड़ा कोई भी व्यक्ति उठा पाएगा, बस वह राज्य का निवासी हो।
  • योजना में ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन किया जा सकेगा।
  • सभी शहरी निकयों को शहरी मजदूरों को रोजगार देने के लिए अलग से धन दिया जाएगा।

झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार)  योजना के लिए पात्रता

  • इस योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक का झारखंड निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक एक अप्रैल 2015 से शहरी क्षेत्रों में रह रहा हो।
  • आवेदक की उम्र 18 साल से कम नहीं होनी चाहिए।
  • ग्रामीण क्षेत्रो में आवेदक के पास मनरेगा कार्ड नहीं होना चाहिए।

Jharkhand Mukhya Mantri Shramik (Shahri Rozgar Manjuri For Kamgar) Yojana Online Registration Form

अगर आप झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना में आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अभी थोड़ इंतजार करना होगा। क्योंकि अभी यह योजना पूरी तरह से लागू नहीं हुई है। जैसे ही योजना आवेदन शुरू होगी आप हमारी साइट पर जाकर प्रक्रिया को फॉलो कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार)  योजना से सम्बंधित प्रशनोत्तर

मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार) योजना किस राज्य द्वारा लागू की गई है?

यह योजना झारखंड सरकार द्वारा लागू की गई है।

मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना से किन्हे लाभ मिलेगा?

इस योजना का लाभ झारखंड राज्य के उन लोगों को दिया जाएगा जो कोरोना काल में अपने राज्यों में लौट कर आए हैं। इसके अलावा योजना का लाभ उठाने के लिए इससे जुड़ी कुछ शर्ते भी पूरी करनी होगी

झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार)  योजना से कितने दिन के लिए रोजगार मिलेगा?

इस योजना के माध्यम से आवेदन करने वाले व्यक्ति को 100 दिन तक गारंटी रोजगार दिया जाएगा।

झारखंड मुख्यमंत्री कामगार योजना किस आवेदन कर सकते हैं।

इस योजना में आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यम से जल्द ही किया जा सकेगा।

यह भी पढ़े >>>>>> झारखंड की अन्य योजनाएं भी देखें