X

मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा | पोर्टल ,ऑनलाइन आवेदन, किसान पंजीकरण | Meri Fasal Mera Byora Online Registration Form 2021

हरियाणा सरकार का मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ पोर्टल  | Meri Fasal Mera Byora Online Registration Form 2021,पंजीकरण, आवेदन 

UPDATE – Registrations Started !

कोरोना संकट के दौरान भी हरियाणा सरकार की मेरी फसल मेरा ब्यौरा नाम की योजना लाभकारी सिद्ध होने जा रही है । इस बार, कोरोना संकट के दौरान भी इस पोर्टल के माध्यम से किसानों से सरकार गेंहूं और सरसों खरीदेगी । ध्यान रहे, किसानों का ऑनलाइन पंजीकरण करना अत्यंत आवश्यक है । इस पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें और अन्य जरुरी जानकारी इस लेख में विस्तार से बताई गई है|

Meri Fasal Mera Byora ( मेरी फसल मेरा ब्यौरा ) योजना एक महत्वपूर्ण योजना है। भारत एक कृषि प्रधान देश है। यहां की 70% आबादी गांव में निवास करती है। जिनका मुख्य व्यवसाय कृषि है। कृषि के उत्पादन में भारत महत्वपूर्ण भागीदारी निभाता है। किसानों को आर्थिक तथा कृषि संबंधित सामग्रियों की आवश्यकता होती है। जिनके लिए किसान सरकार अथवा निजी संस्थाओं पर निर्भर रहते हैं। भारत के ज्यादातर किसान छोटे जोत वाले किसान होते हैं। इन किसानों के पास खेती से संबंधित उपकरण तथा सुविधाओं के लिए विभिन्न स्थानों पर जाकर लाना पड़ता था।

Meri Fasal Mera Byora Portal के महत्वपूर्ण बिंदु :

  • किसान की पंजीकरण , फसल की पंजीकरण और खेत का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज होगा |
  • किसानों के लिए एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता और समस्या निवारण के लिए एक अनूठा प्रयास |
  • फसल की बिजाई-कटाई का समय और मंडी संबंधित जानकारी उपलब्ध करना |
  • कृषि संबंधित जानकारियाँ समय पर उपलब्ध करवाई जाएंगी |
  • खाद्य ,बीज ,ऋण एवं कृषि उपकरणों की सब्सिडी समय पर उपलब्ध
  • प्राकृतिक आपदा-विपदा के दौरान सही समय पर सहायता दिलाना |

इस लेख में आपको बता रहे हैं हरियाणा के किसान किस प्रकार मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर पंजीकरण (ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन) करवा सकते हैं और ये पोर्टल किस प्रकार के किसानों के लिए लाभकारी हैं |

मेरी फसल मेरा ब्यौरा | Haryana Meri Fasal Meri Byora

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की ऑनालाइन व सूचना प्रौद्योगिकी के अधिक से अधिक उपयोग करने के उनके डिजिटलाइजेशन विजन को आगे बढ़ाते हुए कृषि एवं किसान कल्याण विभाग ने फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल पर दर्ज करवाने की सुविधा की शुरुवात की है । इसके लिए विभाग ने ‘मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ नामक पोर्टल लॉन्च किया है।

खरीफ फसलों का ब्यौरा किसान इस पोर्टल ऑनलाइन दर्ज करवा सकते हैं। ऑनलाइन करने का कार्य गांवों में स्थित सामान्य सेवा केंद्रों के वीएलई (वीलेज लेवल इंटरप्रन्योर) करेंगे |जिसके लिए उन्हें 5 रुपये प्रति खेवट की दर से भुगतान किया जाएगा।

Haryana Meri Fasal Mera Byora – पोर्टल के लाभ

  • बोई जाने वाली फसलों की जानकारी प्राप्त करने तथा विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र किसानों को देने के लिए प्रदेश सरकार ने राज्य स्तरीय फसल ई-सूचना नामक वैब पोर्टल लॉन्च किया है।
  • कार्यरत वीएलई सभी किसानों की फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवाएंगे |
  • वीएलई को इस कार्य के लिए प्रदेश सरकार द्वारा सीधे उसके खाते में भुगतान किया जाएगा।
  • वीएलई के अलावा किसान अपने स्तर पर खुद इंटरनेट के माध्यम से (fasal.haryana.gov.in
    ) को खोलकर भी अपनी फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवा सकता है।
  • इस पोर्टल पर आने वाली सूचनाओं को कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के साथ सांझा किया जाएगा।
  • किसानों द्वारा अपलोड की जाने वाली सूचना किसी अन्य कानूनी क्लेम में प्रयोग नहीं की जा सकेगी।
  • इसके अलावा जमाबंदी संबंधी डाटा भी पटवारियों द्वारा सांझा किया जाएगा।
  • इससे किसानों की फसलों की खरीद प्रक्रिया आसान हो जाएगी।
  • खरीफ फसलों का ब्यौरा किसान ऑनलाइन दे सकते हैं|

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के दौरान क्या जानकारी या दस्तावेज चाहिए होंगे | Required Documents/information

  • आधार कार्ड
  • जमीन की जानकारी के लिए नक़ल की कॉपी /फारद की कॉपी से अपना मुरब्बा नंबर खसरा नंबर देख कर भरें |
  • फसल के नाम /किस्में /बुआई का समय
  • बैंक की पासबुक की कॉपी

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का उद्देश्य

हरियाणा राज्य ने अपने किसानों के लिए हर सुविधाओं का ध्यान रखते हुए इस योजना को बनाया है। इस योजना का उद्देश्य किसानों की समस्याओं को दूर करना है। जिसे किसान आत्महत्या जैसी गलत हरकत ना कर सके  इसके साथ ही जब प्राकृतिक आपदा तथा अन्य कारणों से फसल नष्ट हो जाती है तो किसानों को फसलों की बीमा तथा मुआवजा देकर किसानों के ऊपर आए आर्थिक दबाव को कम करना है।इसका यह भी उद्देश्य है कि किसानों को ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा उपलब्ध करा कर बीज कृषि उपकरण सब्सिडी आदि उपलब्ध करवाना है। जिससे किसान अपनी फसल का उचित दाम प्राप्त कर सकें तथा किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए मंडियों के बारे में भी जानकारी उपलब्ध कराना है।

हरियाणा मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म 2021 | meri fasal mera byora farmer registration @fasal.haryana.gov.in

आईये अब किसान ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया को समझते हैं

  • हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट fasal.haryana.gov.in पर जाईये
  • आप रजिस्ट्रेशन से पहले वीडियो देख कर भी इस के बारे में जानकारी ले सकते हैं
  • पंजीकरण करने के लिए वेबसाइट पर जाकर “पंजीकरण (क्लिक करें)” लिंक पर क्लिक करें
  • ऐसा करने के बाद किसान पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा
  • रजिस्ट्रेशन के लिए क्रम वार मांगी गई सारी जानकारी सही से भरें
  • सारी सुचना सही से भरने के बाद पंजीकरण फॉर्म सबमिट कर दीजिये | पंजीकरण हो जाने के बाद आप पंजीकरण संख्या व अन्य जानकारी संभाल कर रख लें

Fasal HRY Meri Fasal Mera Byora Helpline | हेल्पलाइन से संपर्क कैसे करें

  • टोल फ्री नंबर करें डायल18001802060 ( सुबह नौ बजे से शाम सात बजे तक)
  • ईमेल करें hsamb.helpdesk@gmail.com

दोस्तों इस प्रकार से आपका meri fasal mera byora Portal  पर ऑनलाइन आवेदन हो जाएगा और अपनी फसल कि आप पूरी जानकारी दे पाएंगे और उचित मूल्य प्राप्त कर पाएंगे ! सरकारी स्कीम की जानकारी के लिए जुड़े रहे हमारी वेबसाइट के साथ 

जरुरी:

क्या कोरोना महामारी के चलते इस बार सरकार गेंहूं और सरसों की फसल सरकारी दाम पर हरियाणा के किसानों से खरीदेगी ?

जी हाँ । हाल ही में आई खबर के अनुसार हरियाणा सरकार ने लगभग २ हजार मंडियां इसके लिए स्थापित की हैं । जो किसान अपनी फसल बेचना चाह रहे हैं उनको ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा|

मेरी फसल मेरा ब्यौरा क्या है ? इसके माध्यम से हरियाणा के किसान ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें?

हरियाणा सरकार द्वारा किसानों को फसल का सही दाम दिलवाने के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा नाम का पोर्टल शुरू किया गया है । इस पोर्टल पर किसान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं । ऐसा करने के बाद वो सरकारी मंडियों में अपनी फसल बेच पाएंगे|

इस बार पंजीकरण कब से कब तक किये जा रहे हैं?

ऑनलाइन पंजीकरण किये जाएंगे । किसानों से आग्रह है दी गई जानकारी के अनुसार अपना पंजीकरण घर बैठे ही करा लें|

मेरी फसल मेरा ब्योरा में शिकायत कैसे करें?

इस पोर्टल के हेल्पलाइन नंबर 18001802060 पर कॉल करके शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

नई सरकारी योजनाओं की जानकारी के लिए बने रहिये हमारे साथ