जानिये कोरोना वायरस के प्रक्रोप के दौरान केंद्र सरकार और राज्य सरकारों ने क्या क्या योजनाएं चलाई हैं


State & Central Government Schemes During Corona Virus epidemic | जानिये कोरोना महामारी के दौरान केंद्र सरकार और राज्य सरकारों ने कौन कौन सी योजनाएं शुरू की

कोरोना बीमारी के चलते आज पूरा देश लॉकडाउन हो चुका है, जिसकी वजह से लोगो को खासी दिक्कतो का सामना करना पड़ रहा है। इस लॉकडाउन का सबसे ज्यादा असर उन गरीब और निर्धन लोगों पर पड़ा है जो अपनी रोज की आय से भी बड़ी मुश्किल से गुजारा कर पाते थे। ऐसे में उन लोगों के पास न तो पर्याप्त मात्रा में धन है और न ही खाने पीने की सामग्री की कोई व्यवस्था। लेकिन देश के ताजा हालातो को देखते हुए लगभग सभी राज्य सरकारो और केंद्र सरकार ने लोगों की मदद हेतु अलग अलग योजनाओ का ऐलान किया है। इन योजनाओं की मदद से लोगों को न केवल धन की बल्कि खाद्य पदार्थो और एलपीजी जैसी सभी जरूरी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। आज हम अपने इस लेख में आपको सभी राज्यो और केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही इन्ही योजनाओं के बारे में विस्तार से बताएंगे।

कोरोना वायरस को लेकर आज संपूर्ण देश में लॉकडाउन कर दिया गया है। यह लॉकडाउन अभी 21 दिन के लिए किया गया है, लॉकाडाउन अभी 14 अप्रैल 2020 तक जारी रहेगा, स्थिति बिगड़ने पर इस लॉकडाउन को आगे भी बढ़ाया जा सकता है। इस दौरान पूरे देश में केवल किराना दुकाने, बैंक, गैस सेवाए, पैट्रोल पंप, सब्जी मंडी, फलो की दुकाने, अस्पताल और केमिस्ट शॉप ही खुली रहेंगेी। इस लॉकाडाउन के दौरान देश की सभी सीमाए सील कर दी गई हैं। हवाई यात्रा, दूसरे राज्यो के लिए चलने वाले निजी और सरकारी वाहन दोनो ही बंद कर दिए गए हैं। देश में केवल कुछ ही सरकारी बस सेवाएं चालु रहेंगेी।

इस बीच सारे मॉल, शांपिंग कॉम्पलेक्स, सिनेमा घर, धार्मिक स्थल और सभी पर्यटन स्थलो को पूरी तरह बंद कर दिया गया है। यही नहीं लॉकडाउन के नियमो को तोड़ने वाले लोगो पर कड़ी कार्रवाही करने का कानून भी लागू किया गया है। इस पूरी स्थिति को देखते हुए हर राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में कोरोना से निपटने के पुख्ता इंतजाम कर दिए गए हैं। लॉकाडउन मे हर वर्ग के लोगो को समय पर खाद्य सामग्री और जरूरी वस्तुए प्रदानी की जा सके इसक लिए हर राज्य सरकार और केंद्र सरकार ने अपनी अलग अलग तैयारियां शुरू कर दी हैं। चलिए जानते हैं राज्य और केंद्र सरकार द्वारा लिए गए निर्णय के बारे में

केंद्र सरकार ने कोरोना आपदा के दौरान खोला योजनाओं का खजाना | Indian Govt. Schemes/Announcement 2020 During Corona Epidemic in Hindi

देश की वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए खजाना खोल दिया है। इस भयंकर महामारी से निपटने के लिए 1.70 हजार करोड़ रूपए की धनराशि वाली प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का ऐलान किया गया है। इस योजना की मदद से न केवल लोगों को खाने पीने की व्यवस्था की जाएगी बल्कि, छोटी निजी कंपनियों, डॉक्टरो नर्सों और अन्य विभाग के कई कर्माचारियों को भी इसका लाभ मिलेगा।

  • इस योजना के जरिए 80 करोड़ लोगों को सीधा लाभ दिया जाएगा। योजना के अतंर्गत 80 करोड़ लोगो को खाद्य सामग्री सस्ते दामों पर मुहैया कराई जाएगी। इसमें भाजपा के कार्यकर्ताओ की मदद ली जाएगी और हर दिन 5 करोड़ लोगों तक सस्ते दामो में गेंहू, चावल और दाले पहुंचाई जाएगी।
  • इस महामारी से लड़ने वाले मेडिकल स्टाफ को 50 लाख रूपए तक का बीमा दिया जाएगा। इस योजना में आशा वर्कर्स, नर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ भी शामिल है। इसका लाभ 20 लाख मेडिकल कर्मचारियो तक पहुंचाया जाएगा।
  • योजना के तहत पीएफ स्कीम रेगुलेशन में बदलाव किया गया है। इसका लाभ उन संस्थानों को मिलेगा जिनमें 100 से कम कर्मचारी काम करते है या फिर जिन संस्थानो  में 90 फिसदी कर्मचारियों की सैलरी 15000 रूपए प्रतिमाह से भी कम है। उनके ईपीएफ का कर्मचारी और नियोक्ता दोनों का 12-12 फीसदी अंशदान अगले तीन माह सरकार देगी। इसके दायरे में 80 लाख कर्मचारी और 4 लाख प्रतिष्ठान आएंगे।
  • किसान सम्मान निधि योजना के तहत इसमे पंजीकृत 8.69 करोड़ किसानों को हर माह अगले तीन महीने तक 2000 रूपए सीधा अकाउंट में दिया जाएगा। PM Kisan List में जिन जिन लोगों का नाम है उनको इसका लाभ मिलेगा |
  • मनरेगा योजना के तहत पंजीकृत मजदूरो को 182 रूपए की जगह 202 रूपए दिए जाएंगे। इसका लाभ देश के 5 करोड़ परिवारो को पहुंचाया जाएगा।
  • जनधन योजना के तहत खुलवाए गए महिलाओं के खातो में अगले 3 महीने तक 500-500 रूपए दिए जाएंगे।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ भारतवासियों को हर महीने अगले तीन माह तक 5-5 किलो गेहूं और चावल, के साथ साथ एक किलो दाल भी मुहैया कराई जाएगी
  • उज्जवला योजना के तहत 8.69 करोड़ घरों को अगले तीन महीने तक तीन मुफ्त गैस सलैंडर पहुंचाए जाएंगे इसका लाभ केवल बीपीएल परिवारो को ही होगा।उज्ज्वला योजना लाभार्थियों के लिए सरकार का यह बहुत सराहनीय कदम है
  • महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को दीनदयाल योजना के तहत 20 लाख तक का लोन मिलेगा, पहले यह राशि 10 लाख थी। यह राशि बिना ब्याज के दी जाएगी।
  • देश के वरिष्ठ नागरिक, विधवा और दिव्यांगजनों को अतिरिक्त 1000 रूपए तीन महीने में दो किश्तो में दिए जाएंगे। इसका लाभ 3 करोड़ लोगो तक पहुंचाया जाएगा
  • निर्माण क्षेत्र के मजदूरों के कल्याण कोष में जमा 31 हजार करोड़ रुपये का इस्तेमाल 3.5 करोड़ पंजीकृत मजदूरों के लिए होगा।

राज्य सरकारों द्वारा चलाई गई योजनाएं और की गई राहत घोषणाएं | State Govt. Schemes During Covid 19 Spread

दिल्ली सरकार ने कोरोना आपदा के दौरान क्या क्या घोषणाएं की और क्या क्या योजनाएं शुरू की | Delhi Govt. Schemes/Announcement During Corona Period

सबसे पहले बात करें राजधानी दिल्ली की तो यंहा सरकार ने कोरोना को लेकर कई अहम कद उठाए हैं।

  • दिल्ली के 72 लाख लोगों को 7.5 किलो राशन फ्री में दिया जाएगा।
  • दिल्ली के 8.5 लाख लोगो को चार से पांच हजार रूपए पेंशन दी जाएगी।
  • दिल्ली सरकार द्वारा नाइट शेल्टरो में मुफ्त खाना बाटा जा रहा है, जंहा जा कर कोई भी व्यक्ति खाना खा सकता है।
  •  पब्लिक ट्रासंपोर्ट पर रोक लगाई गई है। सभी ट्रेनों की आवाजाही, हवाई अड्डे, प्राइवेट बस, वाहन आदि भी बंद कर दिए गए हैं, साथ ही डीटीसी बस सर्विस सेवा भी 75 प्रतिशत तक कम कर दी गई है।
  • आवश्यक वस्तुओ की दुकाने, बैंक, एटीएम और अस्पताल जैसी सभी जरूरी चीजे खुली रहेंगी।
  • लॉकडाउन में किसी भी सरकारी और प्राइवेट कर्मचारियों की सैलरी पूरी दी जाएगी। इसमे वर्क फ्रॉम होम के लोग और जिन कार्यालयो में काम पूरी तरह बंद हैं उनकी भी सैलरी नहीं कटेगी।
  • ऐसे घरो को चिन्हित किया जा रहा है जंहा किसी भी व्यक्ति को क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है।
  • जामिया और जेएनयू ने अपने सभी छात्रों को घर जाने का आदेश दे दिया है।
  • सभी धार्मिक और सांस्कृतिक स्थानो को बंद कर दिया गया है
  • सभी निर्माण का्र्यो पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है।
  • दिल्ली सरकार ने 500 स्कूलो में लोगों के खाने पीने का इंतजाम किया है, यंहा जा कर कोई भी व्यक्ति खाना खा सकता है। दिल्ली सरकरा द्वारा हर रोज 4 लाख लोगों को खाना खिलाने का लक्ष्य लिया गया है।

हरियाणा सरकार ने अब तक क्या किया

हरियाणा सरकार द्वारा कोरोना के खिलाफ उठाए गए जरूरी कदम

  • मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना में पंजीकृत 12.38 लाख लोगों के खाते में लोगों को 31 मार्च तक 2000 रूपए दिए जाएंगे, इससे पहले 4000 रूपए ट्रांसफर किए जा चुके हैं।
  • बीपीएल कैटेगरी में आने वाले लोगो को 4500 रूपए महीना दिया जाएगा, साथ ही इस श्रेणी में आने वाले लोगो को अप्रैल का राशन भी मुफ्त दिया जाएगा।
  • दिहाड़ी मजदूर, रिक्शा चालको, स्ट्रीट वेंडर्स को जिलो में डीसी के पोर्टल पर जाकर पंजीकरण कराना होगा। पंजीकरण कराने पर उन्हे भी 4500 रूपए महीना दिया जाएगा।
  • कोरोना से संक्रमित लोगों का इलाज सरकार द्वारा कराया जाएगा।
  • कोरोना संक्रमित व्यक्ति कि अगर इलाज के दौरान मृत्यु हो जाती है तो उसके परिजनो को एक्सग्रेसिया के तहत 10 लाख रुपए दिए जाएंगे
  • हरियाणा सरकार द्वारा कोरोना रीलीफ फंड बनाया है और उस खाते में मुख्यमंत्री ने स्वय 5 लाख रुपए डाले हैं। साथ ही सभी विधायक अपने एक माह की सैलरी इस फंड में डालेंगे। इसके अलावा राज्य में मौजूद आइएएस अपनी सैलरी का 20 प्रतिशत भाग इस फंड में देंगे। यदि कोई आम व्यक्ति भी इसमें दान करना चाहता है तो वह भी कर सकता।

उत्तर प्रदेश सरकार के कोरोना महामारी के दौरान लोगों के हित के लिए, लिए गए फैसले

योगी प्रदेश यानी उत्तर प्रदेश में भी कोरनो से निपटने के लिए निम्नलिखित कदम उठाए गए हैं।

  • प्रदेश के 80 लाख मजदूरो को एक एक हजार रूपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • प्रदेश के लोगों तक घर घर सामान पहुंचाने के लिए युपी पुलिस के पीआरवी 112 की  3000 फोर व्हीलर और 1500 टू-व्हीलर की मदद ली जाएगी।
  • लॉकडाउन के अंदर सभी प्रोडक्शन पूरी तरह रोक दिए गए हैं।
  • लोगो तक सही समय पर मेडिकल सहायता पहुंचाई जा सके इसके लिए 108 की 2200 एंबुलेंस, 102 की 2270 एंबुलेंस और एडवांस लाइफ सपोर्ट 250 एंबुलेंस उपलब्ध है।
  • युपी में कोरोना संक्रमण में आने वाले मरीजों को मुफ्त इलाजा मुहैया कराया जाएगा।
  • लोगो को कोरोना वायरस से जागरूक करने के लिए हेल्पलाइन नंबर 18001805145 भी जारी किया गया है।
  • सभी ऐतिहासिक और घूमने के स्थानो को पूर तरह बंद कर दिया गया है।
  • कक्षा एक से आठ तक सभी छात्रो को प्रमोट करने का आदेश दे दिया गया है।

महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना के दौरान क्या कदम उठाये | Maharashtra Government Initiatives During Corona

महाराष्ट्र सरकार द्वारा भी कोरोना वायरस से बचने के लिए और लोगो को जागरूक करने की ओर कई ठोस कदम उठाए गए हैं।

  • महाराष्ट्र में सभी तरह के ट्रांसपोर्ट सर्विस में काफी कमी कर दी गई है। सिटी बस सर्विस सिर्फ कुछ चुनिंदा इलाको में सफाई कर्मचारी, हेल्थ कर्मचारी बैंक और मजदूरो के लिए ही चलाई जा रही हैं।
  • सरकारी दफ्तरो में केवल 5 प्रतिशत लोग ही काम करने के लिए मौजूद होंगे।
  • महाराष्ट्र सरकार द्वारा सभी तरह की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं।
  • सभी मॉल सिनेमाघर लॉकडाउन के अंदर बंद कर दिए गए हैं।
  • किराना दुकाने, केम्सिट शॉप, सब्जी मंडी और अन्य जरूरी चीजे जैसे बैंक खुले रहेंगे।
  • सभी टाइगर रिजर्व, सैक्चुअरी और नेश्नल पार्क को बंद कर दिया गया है। नए आदेश तक यह सभी जगह बंद रहेंगी।
  • कोरोना वायरस कि टेस्टिंग और इलाज के लिए अस्पतालों की संख्या बढ़ाई जा रही है।
  • महाराष्ट्र के ताजा हालातों को देखते हुए, कुछ इलाको में धारा 144 लगाई गई है।

राजस्थान में उठाए गए कदम

  • राजस्थान हाई कोर्ट ने जोधपुर, जयपुर और कोटा में होने वाले निकाय चुनावों को 6 सप्ताह के लिए स्थगित किया गया।
  • लॉकडाउन के दौरान राजस्थान में जरूरी सामन के अलावा सभी बजार, मॉल सिनेमाघर और सभी तरह के पर्यटक स्थल बंद कर दिए गए हैं।
  • पेंशन पाने वाले सभी लोगों को आर्थिक समस्या से जूझना ना पड़े उसके लिए अप्रैल के पहले सप्ताह में ही पेंशन लाभार्थियों के अकाउंट में पैसा ट्रांसफर कर दिया जाएगा
  • राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा से जुड़े सभी लाभार्थियों को मई तक मुफ्त में गेंहु बाटे जाएंगे।
  • शहरी इलाको में रहने वाले वह लोग जो NFSA की सूची से बाहर हैं उन्हे अगले दो माह तक खाद्य सामग्री के पैकेट मुफ्त बांटे जाएगे। सरकार के इस फैसले का लाभ दिहाड़ी मजदूर, स्ट्रीट वेंडर और बाकि सभी निर्धन और गरीब परिवारों को दिया जाएगा। ये खाद्य सामग्री के पैकेट नगरपालिका द्वारा बांटे जाएंगे।
  • आवश्यक सेवाओ के अलावा राजकिय और निजी सभी कार्यालय लॉकडाउन के दौरान पूरी तरह बंद रहेंगे।
  • इसके अलावा मॉल, स्कूल, कॉलेज और सभी तरह के इस्टियुशन और बाजार भी अगले निर्देश तक बंद ही रहेंगे।

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने क्या घोषणाएं की | CG Govt. Schemes During Corona Epidemic

छत्तीसगढ़ सरकार ने भी कोरोना से बचाव के लिए बहुत से अहम कदम उठाए हैं।

  1. यंहा लॉकडाउन के अंदर सभी तरह के गैरजरूरी कार्यालय बंद रहेंगे।
  2. राज्य में केवल जरूरी दुकाने अस्पताल और कुछ बैंकिंग सेवाए ही चालू रहेंगी
  3. बिजली, पानी समेत घरेलु गैस और कचरा साफ करने वाले सभी कार्यालय खुले रहेंगे और सभी को इनकी सेवाए प्राप्त होती रहेंगी।
  4. राज्य के सभी स्कूल, मॉल, बाजार, कॉलेज और दूसरे संस्थान अगले निर्देश तक बंद रहेंगे।

पश्चिम बंगाल सरकार ने क्या किया अब तक | WB Govt. Schemes/Announcement During Covid 19 Spread

  • पश्चिम बंगाल में भी लॉकाडाउन के दौरान सभी तरह के ट्रांसपोर्ट में कमी कर दी गई है। केवल अस्पताल कर्मचारी, सफाई कर्मचारी, बैंक कर्मचारी और अन्य जरूरी कर्मचारियों ही ट्रांसपोर्ट में कर सकते हैं सफर
  • सरकार के अगले निर्देश तक के लिए सभी परीक्षाए टाल दी गई हैं। सभी स्कूल, कॉलेज और इस्टीयुशन 15 अप्रैल तक के लिए बंद रहेंगे।
  • लॉकडाउन में केवल कुछ ही जरूरी दुकाने और कार्यालय खुले होंगे। जरूरत की सामान की दुकाने खुली रहेंगी।

बिहार की नितीश सरकार ने भी उठाये ठोस कदम

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इस महामारी से निपटने के लिए उठाए कई महत्वपूर्ण कदम

  • अंतरराज्यीय पिरवहन पर रोक लगाई गई, सभी हवाई यात्राओं को भी किया गया बंद
  • कोरोना वायरस से हुई मृत्यु तो परिजनो को मुख्यमत्री राहत कोष से वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • सभी कॉलेजो, स्कूलो और बाकी मॉल, बाजारो को 15 अप्रैल तक बंद रखा जाएगा
  • जरूरी चीजो कि दुकाने, सब्जी मंड़ी जैसे स्थान खुले रहेंगे।
  • अस्पताल, बैंक, और गैस एजेंसी जैसी सभी सुविधाएं भी चालू रहेंगी।

उत्तराखंड के लोगों को इस महामारी से बचाने के लिए कई ठोस कदम उठाए गए

  • राज्य में रजिस्टर्ड मजदूरो के बैंक खातो में एक एक हजार रूपए डालने का फैसला लिया गया है।
  • जरूरत पड़ने पर खाद्य सामग्री लोगो के घरो तक पहुंचाई जाएगी।
  • खाद्यान्न और स्वास्थ्य जरूरतों का पूरा ध्यान ऱखा जाएगा।
  • सभी गैर जरूरी कार्यालय और पर्यटक स्थलो को 15 अप्रैल तक बंद रखा जाएगा। 
  • बाहर के राज्य से आवाजाही के सारे ट्रांसपोर्ट पर रोक लगा दी गई है।

ओडिशा के मुख्यमंत्री पटनायक द्वारा कोरोना से बचाव हेतु लिए गए कुछ अहम फैसलें

  • सरकार द्वारा सभी स्कूल, कॉलेजों को 15 अप्रैल तक के लिए बंद किया गया।
  • मॉल, बाजार, ट्रांसपोर्ट और गैरजरूरी कार्योलयो को अगले निर्देश तक के लिए किया गया बंद
  • सभी पर्यटन स्थल और धार्मिक स्थलों को पूरी तरह बंद किया गया।
  • जरूरी सामान की दुकानें, पैट्रोल पंप, केमिस्ट शॉप, अस्पताल और बैंक खुले रहेंगे।

मध्य प्रदेश सरकार ने क्या किया?

  1. मध्यप्रदेश में सभी शहरो को शटडाउन किया गया।
  2. गरीब परिवारों को भोपाल और जबलपुर जिलो में सरकार द्वारा लोगो को मुफ्त राशन मुहैया कराया जाएगा।
  3. उज्जैन में महाकालनेश्वर में आम लोगों का प्रवेश वर्जित किया गया।
  4. कोरोना टेस्ट हेतु जरूरी इंतजाम किए गए।

आंध्र प्रदेश सरकार द्वारा 1897 की इपिडेमिक एक्ट को लागू किया गया

जम्मूकश्मीर में क्या हो रहा है

  • जम्मू-कश्मीर में विदेशी नागरिको समेत बाहरी लोगों को आवाजाही पर पूरी तरह रोक लगा दी गई।
  • जम्मू-कश्मीर के रामबान और किश्तवाड़ समेते कुछ अन्य इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है।

तमिलनाडु | TN Govt. Schemes/Announcement During Corona Covid 19 Issue

  • तमिलनाडु सरकार द्वारा भी कोरोना से बचाव को लेकर भी बहुत से जरूरी कदम उठाए गए हैं। जिनमें स्कूल कॉलेजों के बंद होने से लेकर बॉर्डर तर सील कर दिए गए हैं। सभी हवाई उड़ानो पर प्रतिबंध लगा दिया है। धार्मिक स्थलों को पूरी तरह बंद कर दिया गया है। इसके अलावा प्रदेश में होने वाले सभी सोशल इवेंट्स कैंसल कर दिए गए हैं।

केरल | Announcements by Kerala State Government

  • केरल सरकार द्वारा कोरोना से बचाव हेतु संपूर्ण लॉकडाउन का पालन किया जा रहा है। इस लॉकडाउन के दौरान स्कूल, कॉलेज, मॉल सिनेमाघर बंद कर दिए गए हैं। साथ ही सभी परीक्षाए स्थगित कर दी गई हैं। साथ ही सभी निजी और सरकारी कार्यालयो को बंद करने का आदेश जारी कर दिया गया है। इसमें केवल जरूरी सेवाएं और कार्यालय चालू रहेंगे।

पंजाब सरकार ने अब तक क्या फैसले लिए

  • पंजाब सरकार ने अस्पतालों में पुख्ता इंतजाम किए हैं, सरकार द्वारा जागरूक अभियान चालाया जा रहा है जिसके जरिए लाखो लोगो को बीमार से जुड़ी छोटी बड़ी जानकारी दी जा रही है।

यह भी पढ़ें :