फास्टैग (Fastag) क्या है । ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन | गाडी पे कैसे लगाएं Activate कैसे करें


हेलो दोस्तों आज के लेख में बात करेंगे फास्टैग की। आपने शायद हाल ही में फास्टैग की खबर सुनी होनी । ये कहा जा रहा है के एक दिसंबर 2019 से गाडी में फास्टैग होना अनिवार्य है |

इससे पहले इसके बारे में और बात करें, आपको पहले ये समझते हैं के फास्टैग है क्या और कैसे काम करता है?

फास्टैग क्या है | Fastag Kya hai

दोस्तों आपने टोल प्लाजा पर लगने वाला जाम जरूर देखा होगा । दिल्ली और अन्य बड़े शहरों में टोल प्लाजा पर कई कई बार बड़ी बड़ी कतारें देखने को मिलती हैं । जैसे अभी तक टोल प्लाजा काम करते आये हैं जाम लगना स्वाभाविक है । हर गाडी वाला पहले टोल प्लाजा वाले को या तो पैसे देगा या फिर पहले कटाई हुई पर्ची देगा। कई बार खुल्ले पैसे न होने के कारण टोल प्लाजा कर्मी को पैसे वापिस देने पड़ते हैं जिसमे और समय लगता है |

यह सब असुविधाएं फास्टैग के आ जाने से काम हो जाएँगी और टोल प्लाजा पर आपको इंतज़ार नहीं करना होगा ।ये कैसे होगा आईये समझते हैं :

दोस्तों फास्टैग कोई जादू की छड़ी नहीं बल्कि एक तकनीक है | जिसके द्वारा टोल प्लाजा पर लगने वाले जाम में बहुत कमी आएगी |

फास्टैग एक उपकरण है जिसे गाडी में लगाया जाता है । ये उपकरण क्रेडिट या डेबिट कार्ड से भी काफी छोटा होता है और इसे गाडी के आगे वाले शीशे में चिपकाया जाता है |इस उपकरण में एक माइक्रो चिप लगी रहती है जिसमें वाहन की सारी जानकारी स्टोर रहती है । फास्टैग तकनीक का इस्तेमाल करने के लिए टोल प्लाजा में में भी ऐसे उपकरण लगाए जाते हैं तो फास्टैग की चिप में स्टोर जानकारी को पढ़ पाते हैं | अगर आपका टोल प्लाजा में से अमूमन आना जाना रहता है तो आपने जरूर देखा होगा के आजकल एक या २ लेन केवल फास्टैग के लिए होती है । पहचान के लिए फास्टैग का बोर्ड लगाया गया होता है

अगर आप पूरी तकनीक समझना चाहते हैं तो नीचे पढ़ें :

गाडी के आगे के शीशे में फास्टैग लगाया जाता है और इसमें रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) लगा होता है। जैसे ही आप अपनी गाडी टोलप्लाज़ा में लेकर जाएंगे , तो टोल प्लाजा पर लगा सेंसर आपके वाहन के विंडस्क्रीन में लगे फास्टैग के संपर्क में जायेगा और आपके फास्टैग अकाउंट से उस टोल प्लाजा पर लगने वाला शुल्क काट लिया जाएगा | इस तरह आप बिना रुके टोल प्लाजा की फीस दे पाएंगे | पेमेंट होने पर आपके फ़ोन पर मैसेज भी आ जायेगा | ध्यान रहे पेमेंट के लिए आपको अपने फास्टैग अकाउंट में पैसे डलवाने पड़ेंगे (मोबाइल रिचार्ज की तरह) । हर बार टोल प्लाजा से गुजरने पर आपके अकाउंट से पैसे काट लिए जाएंगे । अकाउंट में पैसे डलवाने के लिए आप क्रेडिट या डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग, पेटीएम्, गूगल पे, यूपीआई आदि माध्यमों से पेमेंट कर सकते हैं |

फास्टैग खरीदने के लिए क्या क्या दस्तावेज चाहियें

  • वाहन के कागजात
  • वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड,पासपोर्ट या कोई और मान्य पहचान पत्र
  • सही से भरा हुआ ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन पत्र/ एप्लीकेशन फॉर्म

फास्टैग खरीदने के लिए कितनी फीस लगेगी

पहली बार १०० रुपये की जोइनिंग फीस लगेगी । इसके बाद वहां के प्रकार के अनुसार 200 से लेकर 400 रुपये तक का सिक्योरिटी डिपाजिट देना होगा । ये भी ध्यान रहे फास्टैग के अकाउंट में न्यूनतम 100 रुपये बैलेंस होना अनिवार्य है |

फास्टैग कैसे खरीदें । ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया | Buy Fastag Online, Registration Process in Hindi

दोस्तों आप घर बैठे ही फास्टैग के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं | काफी सारे बैंक ऑनलाइन फास्टैग खरीदने की सुविधा दे रहे हैं । जरुरी शुल्क ऑनलाइन ही दे दीजिये और कुछ ही दिनों में आपके एड्रेस पर फास्टैग डिवाइस आ जायेगा |

आप ICICI Bank, Axis Bank, IDFC, SBI, HDFC, Syndicate, Paytm, Punjab National Bank (PNB) और अन्य बैंको से ऑनलाइन फास्टैग आवेदन कर सकते हैं |

उदाहरण के लिए इस लेख में आईसीआईसीआई बैंक से फास्टैग ऑनलाइन खरीदने की विधि आपको बता रहे हैं, अन्य बैंको से भी इसी तरीके से फास्टैग के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है :

  • सबसे पहले आधिकारिक पेज पर पहुंचें
  • अब ऑनलाइन फॉर्म खोलने के लिए “Apply Now” पर क्लिक करें
  • ऑनलाइन फॉर्म खुलने पर सारी जानकारी सही से भरें और मांगे गए दस्तावेज अपलोड करें
  • ध्यान रहे आपको आपकी पर्सनल इनफार्मेशन जैसे नाम, एड्रेस और फिर अपने वाहन की सम्पूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी । साथ ही साथ जरुरी दस्तावेज भी ऑनलाइन ही अपलोड करने होंगे
  • फॉर्म जमा करने से पहले पेमेंट कर दें
  • फॉर्म जमा होने के बाद स्क्रीन पर कन्फर्मेशन आ जाएगी । अपनी टैग कस्टमर आईडी नोट कर के रख लीजिये

इस तरह आसानी से फास्टैग के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है | ऑफलाइन आवेदन के लिए टोल प्लाजा ऑफिस में संपर्क करें या अपने बैंक में जाएँ |

फास्टैग इनस्टॉल कैसे करें । डिवाइस आ जाने पर गाडी में कैसे लगाएं और एक्टिवेट करें | Fastag activation in Hindi

ऑनलाइन आवेदन हो जाने के पश्चात दस दिनों के अंदर फास्टैग डिवाइस आपके एड्रेस पर आ जायेगा |डिवाइस मिल जाने पर इंस्टालेशन कैसे करें या जानना भी आवश्यक है |आईये जानते हैं

फास्टैग लगाने और एक्टिवेट करने समन्धित जानकारी नीचे दी गई वीडियो से लें | इस वीडियो के लिए Surprise India चैनल का धन्यवाद

फास्टैग ऑनलाइन खरीदें । जरुरी लिंक्स

ICICI Bank
Axis Bank
IDFC Bank
State Bank of India
HDFC Bank
Paytm Bank
Punjab National Bank

आईये अब फास्टैग से सम्बंधित प्रश्न और उत्तर देख लें | Fastag FAQs in Hindi

अगर एक दिसंबर के बाद फास्टैग नहीं लगाया तो क्या होगा?

राष्ट्रीय राजमार्गों पर 1 दिसंबर के बाद यदि कोई वाहन फास्टैग के बिना टोल प्लाजा की फास्टैग लेन से गुजरता है, तो उस वाहन चालक को दोगुना टोल भुगतान करना होगा। हालांकि, टोल प्लाजा पर एक लेन ऐसी भी होगी, जहां बिना-टैग वाले वाहनों से सामान्य टोल ही वसूला जाएगा। देशभर में 537 टोल प्लाजा पर यह व्यवस्था लागू होगी।

फास्टैग आ जाने से क्या फायदे होंगे?

सबसे ज्यादा फायदा आप टोल प्लाजा पर देख पाएंगे । टोल प्लाजा में लगने वाली भीड़ बहुत की कम हो जाएगी|

फास्टैग गुम या ख़राब होने पर क्या करें ?

अगर फास्टैग गुम हो गया है या ख़राब हो गया है तो रिप्लेसमेंट के लिए आवेदन किया जा सकता है|

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *