eNAM PORTAL| ई-नाम पोर्टल किसान पंजीकरण। ऑनलाइन आवेदन,किसान रजिस्ट्रेशन 2020


देश में किसानों की खराब स्थिति को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा एक अहम फैसला लिया गया है। किसानों की हमेशा से यह शिकायत रहती थी, कि उन्हे उनकी फसल के उचित दाम कभी नहीं मिलते, और इसके अलावा दलालों के माध्यम से बिकी फसल का पैसा भी समय पर नहीं मिला पाता था। लिहाजा किसानों की इसी समस्या को सुलझाने के लिए सरकार द्वारा e nam Portal की शुरूआत की गई है।इसके माध्यम से किसान आसानी से अपनी फसल को बेच कर उचित दाम हासिल कर सकेंगे।

यह भी पढ़ें >> किसान रथ एप से किसान कर सकते हैं माल की ढुलाई के लिए ट्रक या ट्रेक्टर ऑनलाइन बुक

सरकार द्वारा लॉन्च किए गए ई-नाम पोर्टल को राष्ट्रीय कृषि् बाजार के नाम से भी जाना जाता है। अगर आप इस पोर्टल के लाभ, पात्रता, दस्तावेज, ई-नाम एप और ऑनलाइन पंजीकरण से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी चाहते हैं तो आप सही जगह पर आएं हैं, hindiyojana आपको इस पोर्टल से जुड़ी तमाम जानकारी आसान शब्दों में मुहैया कराएगा। जानकारी के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहें।

क्या है ई-नाम पोर्टल

राष्ट्रीय कृषि बाजार या ई-नाम पोर्टल कोई अन्य बाजार नहीं है, बल्कि यह देश में मौजूदा मंडियों का एक नेटवर्क है, जिसके जरिए किसान और व्यापारी एक दूसरे से फसल खरीदने और बेचने का काम घर बैठे ही कर सकते हैं। इस योजना के तहत किसान अपनी फसल की कीमत कंहा सही मिल रही है, यह देख सकते हैं और उसे बेच सकते हैं। बेची गई फसल की धन राशि किसानों के खातो में सीधा ट्रांसफर कर दी जाती है। पोर्टल पर फसल बेचने के लिए किसानों को अपना पंजीकरण कराना होता है। जिसकी प्रक्रिया नीचे दी गई है।

eNAM PORTAL या राष्ट्रीय कृषि बाजार का उद्देश्य

  • इस पोर्टल के जरिए किसानों की आय में बढ़तरी हो, इसके लिए पोर्टल में बोली लगाने का विक्लप रखा गया है ताकि किसानों को उनकी फसल का उचित दाम मिल सके।
  • ई-नाम पोर्टल के माध्यम से किसानों और व्यापारियों के बीच पारर्दशिता लाई जा सके। एंव दलालों से किसानों को छुटकारा दिलया जा सके।
  • इस पोर्टल पर अधिक से अधिक सब्जी मंडियों को एक जगह पर जोड़ कर रखना है ताकि देश का हर किसान इस योजना का लाभ उठा सकें। अभ तक देश के 16 राज्यों एंव 2 केंद्र शासित प्रदेश को मिलाकर इस पोर्टल पर 585 थोक कृषि मंडिया जुड़ चुकी है।
  • प्रक्रिया को बेहतर बनाने के लिए इसकी एप भी लॉन्च कि गई है ताकि लोग कभी अपने फोन के जरिए फसल का तय रेट देख कर सामग्री बेच व खरीद सकें। एप में हिन्दी अंग्रेजी के अलावा कई भाषाओं के विक्लप दिए गए है।
  • एप और पोर्टल की मदद से किसान अपनी फसल लगाई गई कीमत पर बेच सकता है और इसके लिए उसे किसी तरह की कमीशन देने की जरूरत नहीं होगी।

eNAM PORTAL के लाभ

  • पोर्टलपर मौजूद MIS डैशबोर्ड की मदद से किसान कृषि बाजार से संबंधित सभी आंकड़े देख सकते हैं।
  • पोर्टल और मोबाइल एप पर दिए गए ई-लर्निंग विक्लप के जरिए किसान बोली लगाने, लॉट्स चुनने और फसल को बेचन से लेकर अन्य सभी जानकारियां इस पर सीख सकते हैं, फिर आसानी से पोर्टल के इस्तेमाल के जिरए फसल बेच सकते हैं।
  • पोर्टलएंव कई भाषाएं होने की वजह से किसान और व्यापारियों के बीच सामंजस्य स्थापित रहेगा।
  • पोर्टल के जरिए कृषि व्यापार में पारदर्शिता आएगी।
  • ऑनालाइ प्रक्रिया में किसान और व्यापारियों के आमने सामने होने से दलालों को दी जाने वाली कमीश्न से छुटकाराना मिलेगा।
  • पोर्टल पर होने वाली बिकरी पैसा किसान सीधा खातों में पा सकेंगे।
  • पोर्टल कीमत चुकाने के लिए इंटरनेट बैंकिंग, डेबिट/ क्रेडिटकार्ड और युपीआई आईडी का इस्तेमाल किया जा सकेगा।
  • ई-नाम पोर्टल पर व्यापारी समेत लॉजिस्टिक कंपनियां भी अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं

ई-नाम पंजीकरण हेतु दस्तावेज

  • कलर पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक पासबुक
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड

eNAM PORTAL ONLINE REGISTRATION PROCESS | ई-नाम किसान पंजीकरण

  • अगरआप पोर्टल पर पंजीकरण कराना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले इसकी आधिकारिक साइट पर जाना होगा, जिसका लिंक यह है। https://enam.gov.in/web/
  • अबआपके सामने साइट का होम पेज आ जाएगा यंहा आपको रजिसट्रेशन के विक्ल्प को चुनना होगा। आप सहायता के लिए नीचे चित्र देख सकते हैं।
  • विक्लप पर क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, यंहा आपको एक फॉर्म दिखाई देगा, इसमें आपसे बहुत सी अहम जानकारी पूछी जाएंगी। सभी जानकारियां दर्ज कर फॉर्म को सब्मिट कर दें।
  • फॉर्म सब्मिट करने के बाद अन्य पेज पर दी आई जानकारी का भविष्य के लिए प्रिंट आउट लेना उचित रहेगा।
  • अगरआप एप डाउनलोड करना चाहते हैं तो उसका विक्लप भी आपको साइट पर नीचे कि ओर मिल जाएगा।

eNam Portal Registration/पंजीकरण के लिए दिशानिर्देश डाउनलोड करने की प्रक्रिया

सबसे पहले इसके लिए आपको साइट के होम पेज पर जाना होगा, यंहा आपको Resoures के विक्लप के नीचे Registration Guidelines का विक्लप मिलेगा। इस पर क्लिक करें।

अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन गाइड लाइन आ जाएंगी, सहायता के लिए आप नीचे चित्र देख सकते हैं।

ई-नाम पोर्टल हेल्पलाइन नंबर

अगरा आप ई-नाम पोर्टल से संबंधित कोई अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप टोल फ्री नंबर पर कॉल कर या ईमेल आईडी के माध्यम से भी संपर्क कर सकते हैं।

  • हेल्पलाइन(टोल फ्री) नंबर: 1800 270 0224
  • ईमेलआईडी: nam@sfac.in, helpdesk@gmail.com
  • आधिकारिकवेबसाइट: https://enam.gov.in/web/