Home छत्तीसगढ़ सरकारी योजनाएँ 2020 | Chhattisgarh Govt. Schemes in Hindi CG Nyay Yojana | न्यूनतम आय योजना (न्याय ) छत्तीसगढ़, सम्पूर्ण जानकारी (आवेदन, पात्रता, लाभ)

CG Nyay Yojana | न्यूनतम आय योजना (न्याय ) छत्तीसगढ़, सम्पूर्ण जानकारी (आवेदन, पात्रता, लाभ)

by Shivaay
0 comment

राजीव गाँधी किसान न्याय योजना | Congress Nyay (nyuntam aay yojana) Scheme 2020 in Chhattisgarh, Complete Details in Hindi (Benefits, Eligibility, Application Form etc.)

आज देश में किसानों की हालत किसी से छिपी हुई नहीं है, यंहा छोटे किसानो को उनकी फसल का उचित दाम न मिलने के चलते न जाने कितने ही किसान कर्ज की मार झेलते रहते हैं, ऐसी ही समस्या के निपटारे के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने  किसानो के लिए नई योजना की घोषणा की है। इस योजना का नाम है Rajeev Gandhi Kisan Nyay Yojana है, इसे न्याय स्कीम या न्यूनतम आय योजना भी कहा जाता है । छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने साल 2020 का बजट पेश किया और इसी बजट में इस योजना की घोषणा की गई है।

छतीसगढ़ न्याय योजना 2020 का लाभ आप कैसे उठा सकते हैं और क्या है इसमे खास इसे समझने के लिए आपको हमारे इस लेख को आखिर तक पढ़ना होगा।

CG Nyay Yojana | छत्तीसगढ़ न्यूनतम आय योजना | किसान न्याय स्कीम

CM Announcing Chattisgarh Nyay Yojana. Kisan Nyuntam aay scheme

बजट में इस योजना के बारे में यह कहा गया :

किसानों द्वारा कम दामों में बेची गई फसल के अंतर का भुगतान सरकार इस योजना के तहत करेगी। ज्ञात हो कि किसानों को अपनी फसल के अक्सर सही दाम नहीं मिलते इसी के चलते छत्तीसगढ़ में किसान न्यूनतम आय योजना यानी न्याय स्कीम की घोषणा की गई है।

सरकार के इस पहल का लाभ सभी किसानों को मिलेगा जिन्हे अपनी फसल सस्ते दामों में बेचनी पड़ती है। इस योजना के लिए 51000 करोड़ा रूपए आवंटित किया गया है। किसानों को इसका सीधा लाभा आसनी से मिल जाए इसके लिए एक विशेष प्रक्रिया को शुरू किया जाएगा। योजना के भीतर किसी तरह की कोई धांधली न हो इसके लिए फसल के अंतर की रकम सीधा किसान के खातों में ट्रांसफर की जाएगी। छत्तीसगढ़ सरकार का कहना है कि वह 2500 रूपए धान का दाम देने के लिए प्रतिबद्ध होगी।

राजीव गाँधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ | CG Nyuntam Aay Yojana 2020

इस योजना के लाभ

योजना का लाभ सभी तरह के किसानो को मिलेगा, चाहे वह भूमि के मालिक हो यां फिर बटाई से खेती करते हैं। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा फसलो के दाम तय किए जाएंगे और इसकी एक लिस्ट भी जारी की जाएगी। लिस्ट में तय किए गए दाम से ही फसल के बेचने का अंतर तय होगा। उधाहरण के तौर पर अगर लिस्ट में फसल का दाम 2500 रूपए रखा गया है और किसानो को फसल बेचने पर 2000 रूपए ही मिलते हैं तो बचा हुआ 500 रूपए का अंतर सरकार द्वारा दिया जाएगा। जल्द ही सरकार इसकी आधिकारिक साइट लॉन्च कर सकती है जिस पर जा कर आप यह लिस्ट देख पाएंगे। अभी इस योजना का लाभ केवल छत्तीसगढ़ के किसानों को ही दिया जाएगा, इस योजना के सफल होन के बाद योजना पूरे देश में भी लागू किया जा सकता है।

आवेदन के लिए जरुरी कागजात

  • योजना का लाभ उठाने के लिए किसानों को अपना आधार कार्ड, बैंक खाता नंबर, और मोबाइल नंबर की आवश्यकता होगी।

छत्तीसगढ़ में न्यूनतम आय योजना (न्याय) के लिए आवेदन कैसे करें | CG Nyay Scheme Apply Online, Form

इस योजना की केवल अभी घोषणा की गई है लेकिन जल्द ही इसकी आधिकारिक साइट लॉन्च कर दी जाएगाी। जिसके माध्यम से किसान आसनी से आवेदन कर सकेंगे। साथ ही योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन भी स्वीकार किए जा सकते हैं।

सम्बंधित प्रश्न और उत्तर

न्याय योजना को न्यूनतम आय योजना क्यों कहते हैं?

इस योजना के तहत सरकार किसानों को तय किया हुआ न्यूनतम अमाउंट देने की गारंटी देती है इसीलिए इसे न्यूनतम आय योजना कहा जाता है |

छतीसगढ़ न्याय स्कीम का पूरा आधिकारिक नाम क्या है?

इस योजना का पूरा नाम राजीव गाँधी किसान न्याय योजना है|

इस योजना को कौन सा राजनैतिक दल लेकर आया है?

इस स्कीम को घोषणा कांग्रेस सरकार द्वारा की गई है । छत्तीसगढ़ में जल्द ही यह योजना लागू होने वाली है |

यह भी पढ़ें :

You may also like