राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना | AB MGRSBY Rajasthan 2019-20


Ayushman Bharat Yojana Rajasthan (AB MGRSBY) | आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना की सम्पूर्ण जानकारी 

 राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना, राज्य सरकार द्वारा 1 सितम्बर 2019, रविवार को लांच की गई है । सरकार द्वारा आयुष्मान भारत योजना और वसुंधरा राजे द्वारा शुरू की गयी भामाशाह योजना का एकीकरण करके राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना का नया नाम रखा गया है।

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना राजस्थान

राजस्थान आयुष्मान योजना का एकमात्र उद्देश्य

आयुष्मान भारत योजना और भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना का मेल अशोक गहलोत द्वारा इस उद्देश्य से किया गया है कि इसके अंतर्गत लगभग 1 करोड़ 10 लाख परिवार अपने स्वास्थ्य से जुड़े रोगों का योजना से सम्बंधित अस्पतालों में सुविधाजनक और मुफ्त में इलाज करवा सकेंगे।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा के अनुसार भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना एवं आयुष्मान भारत योजना को एकीकृत कर राज्य में आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना लागू की गई है। योजना में शामिल परिवारों को संपूर्ण चिकित्सा सुविधाएं कैशलेस माध्यम से दी जाएंगी । वर्तमान में चल रही भामाशाह स्वास्थ्य बीमा के पात्र परिवारों को पहले की तरह ही इलाज मिलता रहेगा। 

कौन होंगे इस योजना के लाभार्थी

  • राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) के अंतर्गत चयनित परिवारों एवं सामाजिक आर्थिक एवं जाति आधारित जनगणना (SECC List) के आधार पर पात्र परिवारों को फ्री में चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होगी।
  • इसके साथ ही आर्थिक सामाजिक एवं जाति आधारित जनगणना के आधार पर पात्र लाभार्थी परिवारों को भी वर्तमान योजना से जोड़कर योजना का दायरा बढ़ाया गया है। 

यह भी पढ़ें >> राजस्थान आयुष्मान भारत योजना सूची (List) ऑनलाइन कैसे देखें  

आयुष्मान भारत योजना भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के मेल होने के कारण

  • कांग्रेसी अशोक गहलोत सरकार द्वारा आयुष्मान भारत योजना व भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के मेल से ज़्यादा से ज़्यादा परिवारों को इस योजना का लाभ देना है। पहले भामाशाह योजना के अंतर्गत लगभग एक करोड़ परिवार शामिल थे। अब इनकी संख्या बढ़कर एक करोड़ दस लाख परिवारों की हो गयी है।
  • प्रदेश सरकार अशोक गहलोत के मुताबिक बीजेपी नेता वसुंधरा राजे द्वारा लाई गई भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में बहुत भ्रष्टाचार बताया जा रहा था। इस कारण कांग्रेस सरकार नेता अशोक गहलोत द्वारा इस योजना को आयुष्मान भारत योजना में सम्मिलित कर दिया है।
  • सत्ता में आने के बाद नेता अशोक गहलोत ने पंचायती राज संस्थाओं व स्थानीय निकाय चुनावो को मद्देनजर रखते हुए आयुष्मान भारत योजना ओर भामाशाह योजना का एकीकरण कर दिया है। बीजेपी व प्रधानमंत्री द्वारा बार बार ज़ोर देने पर राजस्थान सरकार द्वारा इस योजना को अंजाम दिया गया है।
  • आयुष्मान भारत योजना व भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के मेल होने के कारण अब लाभार्थी और अधिक बिमारियों का इलाज अस्पताल में सुविधाजनक रूप से करवा सकेंगे।

राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना (AB MGRSBY) के अद्वितीय लाभ

  • राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान के कई परिवारों को गंभीर बीमारियों के इलाज की मुफ्त सुविधा प्रदान की जायेगी।
  • शासन कर रही गहलोत सरकार का मानना है कि बीजेपी नेता वसुंधरा राजे सिंधिया द्वारा राजस्थान में शुरू की गयी भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में आ रही सभी गड़बड़ दूर होगी। आयुष्मान भारत योजना के साथ भामाशाह योजना के संलग्न से बनाई गई राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना की और से नयी और बेहतर व्यवस्थाएं लाभार्थियों को प्रदान की जायेगी।
  • भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में भ्रष्टाचार के संबंध में आ रहे मामलो में कमी लाने के लिए सरकार ने आईटी विभाग द्वारा योजना से जुडे अस्पतालों और बिमा कम्पनियो के कर्मचारियों पर सख्त कार्यवाही करने की बात कही है। कड़े कानून के लिए सरकार ने सख्त प्रावधान प्रस्तावित किये।
  • राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ लगभग प्रदेश के एक करोड़ दस लाख परिवारो को प्राप्त होगा। इस योजना के तहत ज़्यादा से ज़्यादा परिवारों को राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल करके उनको लाभ प्रदान करना है।

राजस्थान आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना आवेदन ,ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म 2019-20

दोस्तों जिस समय आयुष्मान भारत योजना का प्रारम्भ हुआ था तब भी लोगों को आवेदन से सम्बंधित कई भ्रम थे | कोई कहता था ऑनलाइन आवेदन होगा कोई कहता ऑफलाइन फॉर्म भरा जायेगा | और कई कई लोग कहते थे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है | विभाग द्वारा बाद में पुष्टि कर दी गई थी के आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है पात्र परिवारों को सरकार खुद सम्मिलित कर लेगी|

चूँकि प्रदेश में चलने वाली आयुष्मान भारत महात्मा गाँधी योजना केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना का ही अंग है इसीलिए माना जा सकता है के अलग से आवेदन की जरुरत नहीं होगी | अगर आवेदन सम्बंधित कोई घोषणा की जाती है तो आपको इसी लेख में अपडेट कर दिया जाएगा

आयुष्मान भारत राजस्थान Toll Free हेल्पलाइन नंबर

किसी भी दुविधा या शिकायत की स्तिथि में नीचे दिए गए किसी भी टोल फ्री नंबर को डायल करें

  • 14555
  • 1800111565
  • 18001806127

महत्वपूर्ण लिंक

राजस्थान की सरकारी योजनाओं व् अन्य ताज़ा सरकारी स्कीम की जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट से जुड़े रहिये

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *