अंतरजातीय विवाह योजना हरियाणा|inter caste marriage haryana in hindi|इंटर कास्ट मैरिज स्कीम इन हरियाणा

प्यारे दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं 😀 😀 हम आपको अपनी वेबसाइट

पर सरकार की तरफ से चलने वाली सारी सरकारी योजनाओं की पूरी जानकारी देने की कोशिश करते हैं दोस्तों यदि आप भी हमारी वेबसाइट पर सभी सरकारी योजनाओं का लाभ उठाना चाहते हैं तो हमारी वेबसाइट को अपने पास सेव करके रख लें दोस्तों आज हम आपको एक और सरकारी योजना को लेकर बताने वाले हैं कि आप भी सरकारी योजना से वंचित ना रह जाए दोस्तों आज की सरकारी योजना है जो कि हरियाणा की तरफ से चल रही है|

जिस योजना का नाम है||||||| अंतरजातीय विवाह योजना जी हां दोस्तों जो भी किसी अन्य जाति में विवाह करता है उसे सरकार की तरफ से 2.50 लाखों रुपए की राशि दी जाएगी दोस्तों अब आप सोच रहे होंगे यह राशि आप किस प्रकार से प्राप्त कर सकते हैं इसके लिए क्या-क्या पात्रता होगी क्या कागजात चाहिए होंगे तथा किस प्रकार से आवेदन करना होगा तो दोस्तों घबराने की जरूरत नहीं है पूरा आर्टिकल ध्यान से पढ़े और इसकी पूरी जानकारी लें|

हरियाणा अंतर्जातीय विवाह पुरस्कार योजना

रियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से प्रदेश में अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़े को मुख्यमंत्री सामाजिक समरसता अंतरजातीय विवाह शगुन योजना के तहत 2.50 लाख रुपये की राशि प्रोत्साहन के रूप में देने का निर्णय लिया है। माज से जात-पात के भेदभाव को खत्म करने एवं आपसी सौहार्द को बढ़ाने के लिए अंतरजातीय विवाह की प्रोत्साहन योजना शुरू की गई है।इस योजना के तहत मिलने वाली राशि दम्पत्ति के नाम संयुक्त सावधि जमा (एफडी) के रूप में दी जाएगी। इस प्रोत्साहन राशि को विवाह के तीन साल बाद निकाला जा सकेगा।

हरियाणा अंतरजातीय विवाह लाभ

  • ढाई लाख रूपये की प्रोत्साहन राशि के रूप में दिए जाएंगे।
  • अस्पृश्यता निवारण रोकने के लिये अन्तर्जातीय विवाह को प्रोत्साहन देना,सरकार का उद्देश्य है|
  • जातिवाद खत्म हो जाए|

Haryana अंतर्जातीय विवाह -जरूरी कागजात

  • आधार कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • युवक-युवती की पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक कॉपी

हरियाणा अंतरजातीय विवाह पात्रता

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए दम्पत्ति में से एक अनुसूचित जाति से संबंधित होना चाहिए|
  • एक गैर-अनुसूचित जाति का होना चाहिए।
  • वह हरियाणा का स्थाई निवासी भी होना जरूरी है।

हरियाणा अंतर्जातीय विवाह ऑनलाइन आवेदन

  • पुरस्कार लेने के लिए आवेदनकर्ता को यहां पर दिए गए वेबसाइट पर क्लिक करना होगा |
  • वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद आपको अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन हेतु ऑनलाइन आवेदन फार्म दिखाई देगा |इस बारे में सारी जानकारी ध्यानपूर्वक पढ़ें |जानकारी भरते समय ध्यान देना चाहिए |
  • कोई भी जानकारी गलत नहीं होनी चाहिए यदि ऐसा होता है तो आपका फॉर्म गलत माना जाएगा|
  • विवाहित दम्पत्ति में वर अथवा वधु, जिसमें एक सवर्ण हो एवं दूसरा अनुसूचित जाति का हो को योजना का लाभ लेने के लिये जिलाधिकारी को प्रार्थना-पत्र प्रस्तुत करना चाहिये।
  • आवेदन के साथ विवाह, उम्र, जाति एवं मूल निवास प्रमाण पत्र संलग्न होने चाहिये। आवेदन पत्रों के परीक्षण के बाद दम्पत्तियों का चयन किया जाता हैं|

दोस्तों यदि आपको HARYANA अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन राशि योजना समझ में नहीं आ रही है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरूर देंगे कृपया हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर करना ना भूलें हम आपको इसमें अपडेट देते रहेंगे |