Breaking News
Home / राजस्थान सरकारी योजनाएँ 2019 | Rajasthan Govt. Schemes in Hindi / राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना |annapurna rasoi yojana rajasthan|annapurna rasoi yojana rajasthan menu|अन्नपूर्णा रसोई योजना ||अन्नपूर्णा रसोई योजना राजस्थान

प्यारे राजस्थान वासियों आप सभी को यह जानकर बहुत प्रसन्नता होगी राजस्थान सरकार में अन्नपूर्णा रसोई योजना का आरंभ किया है इस योजना का मुख्य उद्देश्य है राजस्थान के लोगों को भरपेट खाना सस्ते दामों पर मिले|

राजस्थान सरकार ने राज्य के शहरी क्षेत्रों में श्रमिकों, रिक्शावालों, ठेलेवालों, ऑटोवालों, कर्मचारियों, विद्यार्थियों, कामकाजी महिलाओं, बुजुर्गों एवं अन्य असहायों, जरूरतमंद व्यक्तियों को ध्यान में रखकर उनकी सेहत के लिए अन्नपूर्णा रसोई योजना की शुरूआत की है।

इस योजना का शुभारम्भ माननीया मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा 15 दिसंबर 2016 को किया गया है। इस योजना में अन्नपूर्णा रसोई वैन के माध्यम से मात्र रु 5 में नाश्ता तथा मात्र रु 8 में पौष्टिक भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है।

योजना के दूसरे चरण में 191 शहरों में 500 अन्नपूर्णा रसोई वैनों के माध्यम से नाश्ता और भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।

अन्नपूर्णा रसोई योजना लाभ

  •  रसोई वैन में लाभार्थियों के लिए नाश्ता, दोपहर का भोजन एवं रात्रि का भोजन उपलब्ध होगा। योजना में नाश्ता मात्र 5 रुपये में मिलेगा।
  • नाश्ता के रूप में पोहा, सेवइयाँ, इडली साँभर, लापसी, ज्वार खिचड़ा, बाजरा खिचड़ा, गेहूं खिचड़ा आदि मिलेंगे।
  • इस योजना में भोजन की थाली मात्र 8 रुपये में उपलब्ध है, जिसमें प्रत्येक भोजन सामग्री की मात्रा 450 ग्राम है।
  • भोजन के रूप में दोपहर में दाल-चावल, गेहूं का चूरमा, मक्का का नमकीन खीचड़ा, रोटी का उपमा, दाल- ढ़ोकली, चावल का नमकीन खीचड़ा, कढ़ी-ढ़ोकली, ज्वार का नमकीन खीचड़ा, गेहूं का मीठा खीचड़ा इत्यादि शामिल हैं।
  • योजना में रात्रि भोजन में भी प्रति थाली मात्र 8 रुपये में उपलब्ध है|
  • जिसमें सामग्री की मात्रा 450 ग्राम है।
  • यह सामग्री इस प्रकार है: दाल-ढ़ोकली, बिरयानी, ज्वार की मीठी खिचड़ी, चावल का नमकीन खीचड़ा, कढ़ी-चावल, मक्के का नमकीन खीचड़ा, बेसन गट्टा पुलाव, बाजरे का मीठा खीचड़ा, दाल-चावल, गेहूं का चूरमा इत्यादि।

अब हम आपको districts के बारे में बताएंगे| जिनमें अन्नपूर्णा रसोई योजना को शुरू किया गया है|

District No. of Vans
Jaipur 25
Jhalawar 6
Jodhpur 5
Udaipur 5
Ajmer 5
Kota 5
Bikaner 5
Bharatpur 5
Dungarpur 4
Banswara 4
Pratapgarh 3
Baran 3

टोल फ्री नंबर 1800 270 1063

ज्यादा जानकारी के लिए ऑफिशियल वेबसाइट पर क्लिक करें!!!!!!!!

दोस्तों यदि आप अन्नपूर्णा रसोई से संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरूर देंगे|Facebook पेज को लाइक और शेयर करना ना भूले |

Check Also

हैसियत प्रमाण पत्र राजस्थान|ऑनलाइन आवेदन फार्म

हैसियत प्रमाण पत्र राजस्थान नियम|हैसियत प्रमाण पत्र फार्म राजस्थान pdf|haisiyat certificate form rajasthan|rajasthan haisiyat certificate …

राजस्थान राशन कार्ड लिस्ट 2019|जिलेवार गांव की राशन कार्ड नाम सूची

राजस्थान राशन कार्ड लिस्ट|जिले वार गांव की सूची|rajasthan rashan card list 2019|rajasthan rashan card form …

11 comments

  1. राजू भील

    यह योजना तो बहुत अच्छी है परंतु खाने का साद स्वाद मिट्टी खा लेना अच्छा है खाना खाने लायक नही है।
    एक निवाला रखते ही थूकने का मन करता है इसपर कोई निगरानी तंत्र नही है।

  2. Ajmer district vijaynagar city ke chosla gav me ek free wali anpurna gadi aati h.Janvaro ke bado ke pass aakar khadi hoti h.Jo khane ke liye plate leta h use kabhi to mna kar deta h ki khatam ho gai or kabhi do hi roti dekar bhaga deta h.Rotia bachakar keval chhach pine ke liye theli bharkar janvaro ke bade me rakh jata h.Gadi ko do gharo ke liye sunsan jagah par khadi rakhta h.Bachi hui khali plate pass wale ghar me de jata h.Us gadi par jo ladka aata h uska naam BANWARI h.Iska virodh karne walo se ladne lag jata h .Ek bar check karne aaiye ki ye gadi sunsan jagah par kyo khadi hoti mohle ke beech me khadi kyo nahi hoti .
    Free ki 175 plate janvar rakhne wale 4 ,5 logo ko de jata h .Din me 4 bar aati h.Agar door se koi plate lene aata h to waha khadi aurte
    Ladti h or driver BANWARI bhi unhi ladne wali aurto ka sath deta h bas chhachh pine ke liye.Plsssssssss koi action lijiye ye khana garibo ko milna chahiye na ki janwaro ke liye .Thankyou

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!