X

अहिल्याबाई मुफ्त शिक्षा योजना|Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana

अहिल्याबाई मुफ्त शिक्षा योजना|अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना|अहिल्याबाई फ्री शिक्षा योजना|Ahilyabai free Shiksha Yojana in Hindi|उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना|अहिल्याबाई कन्या निःशुल्क शिक्षा योजना

प्यारे उत्तर प्रदेश वासियों आप सभी के लिए खुशखबरी का मौका है| योगी जी लेकर आए हैं अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना इस योजना का उद्देश्य है कि लड़कियों को मुफ्त में शिक्षा करवाई जाए इसका मुख्य उद्देश्य है गरीबी को खत्म करना क्योंकि अभी भी बहुत घर है जहां पर गरीबी के कारण लड़कियों को नहीं पढ़ाया जाता है |और वह इस शिक्षा से वंचित रह जाती हैं परंतु अब ऐसा नहीं होगा आई लव आई और शिक्षा

योजना के अहिल्याबाई मुफ्त शिक्षा योजना के अंतर्गत सभी लड़कियों को मुफ्त में शिक्षा दी जाएगी |ताकि वह अपने पैरों पर खड़ी हो सके|

अहिल्याबाई फ्री शिक्षा योजना का उद्देश्य

  • दसवीं से ऊपर छात्रवृत्ति और शुल्क प्रतिपूर्ति के लिए 1 हज़ार 61 करोड़ का बजट।
  • दसवीं तक के पिछड़े वर्ग के छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए 142 करोड़ का बजट।
  • सरकार अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना के लिए 21 करोड़ का बजट देगी ताकि लड़कियों को स्नातक तक निशुल्क शिक्षा प्रदान की जा सके।
  • स्कूलों मे बच्चो को जूता,मोजा,स्वेटर बांटने के लिए 300 करोड़ तथा यूनिफॉर्म और किताबो के लिए 124 करोड़ का बजट।
  • स्कूलों में बच्चों को बैग बांटने के लिए 100 करोड़ का बजट,सिंगल विंडो क्लीयरेंस के लिए 10 करोड़ का बजट।
  • औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति 2017 के तहत रोजगार प्रोत्साहन के क्रियान्वयन लिए 20 करोड़ का बजट।
  • युवाओं में कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए बजट मे शामिल किया और 24 जनवरी को UP दिवस मनाने की योजना तथा पूंजी निवेश योजना की नीति लागू की जा रही।
  • अल्पसंख्यक छात्र छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए 791 करोड़ 83 लाख का बजट है।
  • अल्पसंख्यक छात्रो के छात्रवृत्ति और शुल्क प्रतिपूर्ति के लिए 942 करोड़ का बजट।
  • वाईफाई के लिए सरकारी, प्राइवेट डिग्री कॉलेज, विश्वविद्यालयों को 50 करोड़ का बजट।
  • बजट के तहत लखनऊ यूनिवर्सिटी में भाऊराव देवरस शोध पीठ की स्थापना के लिए दो करोड़ रुपये की व्यवस्था।
  • यूनिवर्सिटीज में पंडित दीन दयाल उपाध्याय शोध पीठ की स्थापना के लिए 9 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
  • बजट में महाविद्यालयों व विश्वविद्यालयों को मान्यता प्रदान करने की ऑनलाइन व्यवस्था के लिए 50 लाख रुपये प्रदन किये जा रहे हैं।

 इस योजना के जरिये सरकार शिक्षा के लिए बालिकाओं की मदद करेगी। अभी हाल फिलाल में सरकार अपने सरकारी प्राथमिक विद्यालय, ऊपरी प्राथमिक विद्यालय, जीआईसी और जीजीआईसी कॉलेज के माध्यम से कक्षा 1 से कक्षा 12 वीं तक मुफ्त शिक्षा प्रदान

करती है। अब सरकार ने उच्च स्तर की शिक्षा कार्यक्रम पर मुफ्त छात्रवृत्ति और मुफ्त प्रतिपूर्ति भी प्रदान करने की योजना बनाई हैं।

अहिल्याबाई मुफ्त शिक्षा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

  • जल्दी ही इसकी ऑफिशियल वेबसाइट लॉन्च की जाएगी |
  • जिस पर आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और अपने एप्लीकेशन फॉर्म को भर सकते हैं |

दोस्तों यदि अहिल्याबाई मुफ्त शिक्षा योजना से संबंधित कुछ भी पूछना चाहते हैं तो कमेंट करें मैं आपके प्रश्नों का जवाब जरुर दूंगा कृपया मेरे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर करना ना भूलें|

Categories: sarkari yojana